यू-ट्यूब ने इसलिए उड़ाए लाखों वीडियो

1

दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन कंटेंट साइट और युवाओं के लिए आज सबसे बड़ा प्लेटफॉर्म बन चुके यू-ट्यूब ने अपनी साइट से लाखों वीडियोज को बिना किसी व्यू के हटा दिया है| ये वे वीडियो थे, जिन्होंने इस साइट की शर्तों का उल्लंघन किया था|

यू ट्यूब ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि उसने पिछले साल की आखिरी तिमाही में अपलोड किए 80 लाख से ज्यादा कंटेंट डिलीट किए हैं। इनमें से कई पोर्न वीडियो भी थे। यूट्यूब ने इन वीडियो को इसलिए डिलीट किया क्योंकि ये वीडियो उसकी कंटेंट पॉलिसी के खिलाफ थे।

बताया गया है कि इन वीडियोज को एक भी व्यूज आए बिना ही डिलीट कर दिया गया। इनमें अधिकतर वीडियोज भारत में है। इस क्रम में अमरीका दूसरे और यूके छठे नंबर पर है।

इन वीडियोज को यूट्यूब ने इसलिए भी डिलीट किया क्योंकि कई बड़ी कंपनियों और संगठनों ने आपत्तिजनक कंटेंट के साथ उनके एड्स दिखने को लेकर शिकायत की थी और उसे अपने प्लेटफॉर्म को साफ-सुथरा बनाने का आदेश दिया था।

सबसे ज्यादा फर्जी कंटेंट भारत से

यू-ट्यूब पर फर्जी कंटेंट के मामले में भारत का स्थान अव्वल है| यहां अधिकांश लोगों द्वारा मिलते-जुलते नामों के चैनल बनाए गए हैं| वहीं किसी भी पॉपुलर वीडियो को उठाकर लोग उसे अपने चैनल पर डाल देते हैं, इस कारण भारत में कॉपी कंटेंट की संख्या भी बहुत ज्यादा है| इसलिए यू-ट्यूब ने अपनी साइट से इस तरह के वीडियो को हटाया है|

Share.