website counter widget

बेहद रहस्यमयी है ये झील, पानी पीते ही हो जाती है मौत

0

वैसे तो धरती पर कई सारे राज छिपे हैं और कई ऐसे स्थान मौजूद हैं जो अपने आप में कई रहस्यों को छुपाए हुए हैं। कई गुफाएं, कई होटल्स, कई किले और कई झील, झरने, तालाब अपने आप में रहस्य को छुपाए हुए हैं। ऐसी ही एक झील के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं जो बेहद ही रहस्यमयी है। इस झील के बारे में कहा जाता है कि इस झील का पानी पीने से मौत हो जाती है। यह झील दक्षिण अफ्रीका में स्थित है और इस झील का नाम फुंदूजी है। यहां के लोगों का मानना है कि फुंदूजी झील का पानी यदि कोई पी ले तो फिर उसका बचना नामुमकिन है।

इस झील को लेकर यहां के स्थानीय लोगों का कहना है कि प्राचीन समय में यहां रहने वाले लोगों ने यहां से गुजर रहे एक कोढ़ी व्यक्ति को आश्रय देने और उसे खाना खिलाने से मन कर दिया था। उस कोढ़ी व्यक्ति ने तब उन सभी को श्राप दिया और झील के अंदर जाकर गायब हो गया। तभी से इस झील के अंदर से सुबह के समय ढोल-नगाड़ों और इंसान व जानवरों की चीख-पुकार की आवाज़ें सुनाई देने लगी। इतना ही नहीं इस झील के बारे में यहां के लोग यह भी कहते हैं कि इस झील की रक्षा पहाड़ों पर रहने वाला एक विशाल अजगर करता है। उस अजगर को प्रसन्न रखने के लिए यहां के लोग प्रतिवर्ष नृत्य उत्सव का आयोजन करते हैं। यह उत्सव वेंदा आदिवासी समुदाय के लोग करते हैं जिसमे कुंवारी लड़कियां नृत्य करती है।

झील के निर्माण को लेकर ऐसा कहा जाता है कि प्राचीन समय यह झील नहीं बल्कि मुटाली नदी हुआ करती थी लेकिन भूस्खलन के कारण इसका बहाव रुक गया और यह झील बन गई। इस झील के राज को जानने के लिए कई लोगों ने कई बार प्रयास किया लेकिन वे इसमें नाकाम रहे। एक व्यक्ति ने सन 1946 में इस झील के बारे में सच जानना चाहा।

उस व्यक्ति का नाम एंडी लेविन बताया जाता है। कहा जाता है कि जब एंडी लेविन ने झील से पानी से लिया और यहां के कुछ पौधे अपनी रिसर्च के लिए तब वह वापस नहीं लौट पाया और रास्ता भटक गया। हालांकि उसने कई बार प्रयास किया लेकिन उसे रास्ता नहीं मिला। इसके बाद जैसे ही उसने झील का पानी और वह पौधे फेंके तो उसे तुरंत रास्ता मिल गया और वह वापस लौट सका।

 

हालांकि एंडी लेविन वहां से वापस तो आ गया लेकिन अपने साथ परीक्षण के लिए झील का पानी और पौधे नहीं ला सका। इस घटना के बाद एंडी लेविन मात्र एक हफ्ते ही जीवित रहा और एक हफ्ते बाद अचानक ही उसकी मौत हो गई। तब से लोग इस झील को श्रापित मानने लगे और इसका पानी इस्तेमाल नहीं करते हैं।

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.