ऐसे होता है इस घर में काम

0

आईएसओ 9000 गुणवत्ता प्रबंधन के लिए दिया जाने वाला सर्टिफिकेट है, जो कंपनियों, होटलों और प्रतिष्ठानों को दिया जाता है| इसे हासिल करने के पहले और बाद में भी प्रबंधन को  गुणवत्ता आदि का पालन करना जरूरी होता है, लेकिन क्या आपने सुना है कि किसी घर को भी आईएसओ सर्टिफिकेट दिया गया हो ? जी हां, भारत में एक ऐसा घर है, जिसे आईएसओ सर्टिफिकेट मिला है|

यह घर चेन्नई में है| यहां यदि आप जाते हैं तो आपको मेहमान नहीं बल्कि टेंपरेरी कस्टमर कहा जाएगा| यहां पर मेहमाननवाजी करने से बाद घर वाले आपसे फीडबैक भी मांगते हैं| फीडबैक के लिए एक फॉर्म भी बना हुआ है, जो मेहमानों से भरवाया जाता है|

बताया जा रहा है कि यह पूरा परिवार वकीलों का है| परिवार के सदस्य किसी मेहमान के आने पर किसी कंपनी के कर्मचारी के जैसे काम करते हैं| घर के मुखिया पीएस सुराना और परिवार की प्रतिनिधि लीलावती हैं| वहीं बहू रश्मि मैनेजमेंट रिप्रेजेंटेटिव और उनका बेटा विनोद और बेटे के बच्चे स्थायी ग्राहक हैं| परिवार में कोई मेहमान आते हैं तो उन्हें अस्थायी ग्राहक माना जाता है|

परिवार के सदस्यों ने बताया कि उन्हें यह आइडिया उस वक्त आया, जब उन्होंने अपनी लॉ फर्म सुराना एंड सुराना को आईएसओ सर्टिफाइड करने का मन बनाया| उन्होंने बताया कि घर को सर्टिफिकेट मिलने के बाद आईएसओ के कुछ लोग ऑडिट करने के लिए आते हैं| वे बच्चों के साथ ही परिवार के हर सदस्य का इंटरव्यू लेते हैं तथा घर की गुणवत्ता को लेकर सभी सवाल किए जाते हैं|

Share.