website counter widget

‘मेरा देहांत हो गया है’ लिख कर मांगी छुट्टी, शिक्षक ने दी अनुमति

0

हम बचपन में जब स्कूल में थे तब हम सभी ने छुट्टी के लिए आवदेन पत्र तो जरूर लिखा होगा। हम सभी ने छुट्टी के लिए न जाने कितनी बार ही आवदेन पत्र लिखा है। कभी तबियत खराब होने के लिए छुट्टी तो कभी किसी जरूरी कार्य के लिए अवकाश तो कभी शादी में जाने के लिए छुट्टी तो हम सभी ने मांगी ही होगी। लेकिन उत्तर प्रदेश के कानपुर से एक छात्र ने छुट्टी के लिए एक ऐसा आवदेन पत्र लिखा जिसे जानकार आप हैरान रह जाएंगे। दरअसल छात्र ने आधे दिन की छुट्टी के लिए अपनी ही मौत का आवेदन पत्र लिख डाला। हैरान करने वाली बात यह नहीं कि छात्र ने अपनी मौत की वजह बताकर आधे दिन की छुट्टी मांगी जबकि हैरान कर देने वाली बात तो यह रही कि प्रधानाचार्य ने आवेदन पत्र पर ग्रांटेड लिखकर छुट्टी दे भी दी।

यह पूरा मामला उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले का है जहां कक्षा आठवीं के छात्र ने आधे दिन की छुट्टी के लिए एक आवदेन पत्र लिखा। इस पत्र में उसने खुद की ही मौत का कारण बताकर आधे दिन की छुट्टी मांगी। प्रधानाचार्य ने इस आवदेन पत्र को अपनी स्वीकृति भी दे डाली। उन्होंने इस आवदेन पत्र पर ग्रांटेड लिखकर छात्र को छुट्टी प्रदान कर दी। छात्र ने अपने आवेदन में लिखा, “सविनय निवेदन है कि प्रार्थी विजय (बदला नाम) का 20 अगस्त को 10 बजे देहांत हो गया है। महोदय से अनुरोध है कि प्रार्थी को हाफ टाइम से अवकाश प्रदान करने की कृपा करें, महान दया होगी।”

यह मामला कुछ दिन पहले का बताया जा रहा है। इसमें प्रधानाचार्य की लापरवाही उजागर हो गई। क्योंकि प्रधानाचार्य ने इस पत्र पर ग्रांटेड लिखकर अपने हस्ताक्षर किए और छात्र को छुट्टी प्रदान कर दी। जिसके बाद छात्र स्कूल से चला गया। जब इसके बाद छात्र और उसके दोस्तों में आपसी चर्चा हुई तब यह पत्र शिक्षकों के पास पहुंचा और मामला उजागर हो गया। अब यह आवदेन पत्र सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

Prabhat

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.