जानिए, लाॅक डाउन को लेकर प्रधानमंत्री से किस राज्य ने क्या कहा?

0

देश में 21 दिन के लाॅक डाउन(Lockdown Extension Update) को खत्म होने में अब सिर्फ 5 दिन बचे हैं ऐसे में प्रधानमंत्री इस बात पर भी विचार कर रहे हैं कि लाॅक डाउन को कैसे खत्म किया जाए। इसे लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(PM Narendra Modi) ने बुधवार को कोरोना वायरस(Coronavirus All Party Meeting) पर सर्वदलीय बैठक के बाद कहा कि लॉकडाउन का एक साथ खत्म होना मुश्किल दिख रहा है।
जब प्रधानमंत्री ने लाॅक डाउन को लेकर अलग-अलग राज्यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा की तो कई राज्यों ने केंद्र सरकार को लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का सुझाव भी दिया। किस राज्य ने क्या कहा आईये बताते हैं आपको इस खास रिपोर्ट में-

राजस्थान में बढ़ाया जा सकता है लॉकडाउन
राजस्थान(Rajasthan Lockdown Extension Update) में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों को देखते हुए फिलहाल लॉकडाउन खत्म करने पर सरकार ने स्पष्ट फैसला नहीं लिया है। हालांकि, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मीडिया से रूबरू होते हुए कई लॉकडाउन को आगे बढ़ाने की ओर इशारा किया। प्रदेश में मुख्यमंत्री के सलाहकार और गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव स्वरूप के नेतृत्व में एक कमेटी का गठन किया गया है। जो 14 अप्रैल को खत्म हो रहे लॉकडाउन को आगे बढ़ाने या चरणबद्ध तरीके से खोलने पर विचार कर रही है।

मध्यप्रदेश में बढ़ेगा लॉकडाउन-
मध्यप्रदेश(Madhya Pradesh Lockdown Extension Update) में 14 अप्रैल के बाद लॉकडाउन खत्म होने की संभावना कम ही है। यहां जिस तरह से लगातार मामले बढ़ रहे हैं, उससे यहां की लापरवाही भी उजागर हुई है। अकेले भोपाल में स्वास्थ्य विभाग के इतने सारे कर्मचारियों के बीमार होने से भी हालात बिगड़े हैं। फिलहाल भोपाल, इंदौर और उज्जैन में कई इलाके सील हैं। वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने संकेत दिए हैं कि लॉकडाउन को बढ़ाया जा सकता है।
मध्यप्रदेश में इंदौर और भोपाल में कोरोना पॉजिटिव मरीज लगातार मिल रहे हैं। यहां अब तक आंकड़ा 327 पहुंच चुका है। इंदौर अकेले में 173 मरीज मिल चुके हैं। वही भोपाल में स्वास्थ्य विभाग के 45 अधिकारी कर्मचारी मिल चुके है जिसकी वजह से आंकड़ा 91 तक पहुंच चुका है।

असम सरकार कंडिशनल लाकडाउन के पक्ष में
असम(Assam Lockdown Extension Update) में अगर नई दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से जुडे कोरोना वायरस के मामले इतनी तादाद में सामने नहीं आते तो राज्य को 10 अप्रैल से आशिंक लॉकडाउन के तहत खोलने की चर्चा होने लगी थी।
असम सरकार के कैबिनेट ने तो 30 मार्च को एक बैठक कर चाय बागानों को लॉकडाउन से छूट देने तक का फैसला ले लिया था। लेकिन 31 मार्च को जब कोरोना वायरस से संक्रमित पहला मामला सामने आया तो सरकार को योजना बदलना पड़ी।अबतक असम में कोविड-19 से संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 28 हो गई है।

छत्तीसगढ़ ने दिया लॉकडाउन बढ़ाने का सुझाव
छत्तीसगढ़(Chhattisgarh Lockdown Extension Update) के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव का कहना है कि 14 अप्रैल के बाद भी, राज्य में लॉकडाउन कम से कम दो सप्ताह तक और बढ़ाया जाना चाहिए।
सिंहदेव ने कहा, छत्तीसगढ़ जिन सात राज्यों से घिरा हुआ है, वहां कोरोना का प्रकोप बढ़ा है। लॉकडाउन के कारण छत्तीसगढ़ में कोरोना के संक्रमण को रोकने में हम कामयाब हुए हैं। दस में से नौ मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है। ऐसे में अभी के जो हालात हैं, उसे बरकरार रखने के लिए छत्तीसगढ़ में 14 अप्रैल के बाद भी कम से कम दो सप्ताह तक लॉकडाउन और जारी रहना चाहिए।

केरल ने कहा लॉकडाउन को आगे बढ़ाया जाए
वहीं केरल(Kerala Lockdown Extension Update) ने अधिकारिक तौर पर केंद्र सरकार से कहा है कि लॉकडाउन को चरणबद्ध तरीके से ही हटाया जाए। केरल ने केंद्र सरकार से कहा है कि लॉकडाउन को तीस जून तक तीन चरणों में हटाया जाए।

ये सलाह एक विशेषज्ञ समिति ने दी है जिसकी अध्यक्षता पूर्व मुख्य सचिव और सेबी के सदस्य केके अब्राहम कर रहे हैं।

कर्नाटक 12 जिलों से लाॅकडाउन हटाने के पक्ष में-
कर्नाटक(Karnataka Lockdown Extension Update) उन 12 जिलों से लॉकडाउन हटाने पर विचार कर रहा है जहां अब तक कोरोना संक्रमण का कोई भी मामला सामने नहीं आया है। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने संकेत दिए हैं कि अन्य जिलों में लॉकडाउन चरणबद्ध तरीके से हटाया जाएगा।

तेलंगाना में बढ़ाने की अपील-
तेलंगाना(Telangana Lockdown Extension Update) के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने कहा है कि उन्होंने प्रधानमंत्री से लॉकडाउन को आगे बढ़ाने की अपील की है। उन्होंने कहा, अर्थव्यवस्था को चोट पहुंचेगी लेकिन अगर लोगों की मौत हुई तो हम इस नुकसान की भरपाई नहीं कर पाएंगे। अर्थव्यवस्था को फिर जिंदा किया जा सकता है, इसलिए ही मुझे लगता है कि लॉकडाउन को आगे बढ़ाया जाए।

आंध्र प्रदेश ने नहीं किया फैसला स्पष्ट-
इसी बीच आंध्र प्रदेश(Andhra Pradesh Lockdown Extension Update) के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने अभी अपना पक्ष स्पष्ट नहीं किया है लेकिन उनकी सरकार ये कहती रही है कि केंद्र और राज्य सरकार सही वक्त पर फैसला लेगी इसी बीच कोरोना हॉटस्पाट इलाकों में सख्त कदम उठाए जा रहे हैं।

-Rahul Kumar Tiwari

Share.