website counter widget

ननद से होती है शादी, फिर होती है सुहागरात

0

शादी को लेकर देश ही नहीं दुनिया में भी कई तरह की परम्पराएं प्रचलित हैं। कई परम्पराएं तो ऐसी हैं जिनके बारे में सुनकर सभी चौंक जाते हैं। हमारे देश में कई जगह आज भी ऐसी कई विचित्र परम्पराएं विद्यमान हैं जिनके बारे में जानकार सभी हैरान रह जाते हैं। आज हम आपको एक ऐसी ही परम्परा के बारे में बताने जा रहे हैं। हमारे देश के हिमाचल में आज भी एक ऐसा इलाका है जहां शादी को लेकर बेहद ही अजीब परम्परा अपनाई जाती है। इस परम्परा के अनुसार लड़के की बहन अपने भाई के लिए दुल्हन लेकर आती है।

अब आप सोच रहे होंगे तो इसमें नया क्या है? हर बहन अपने भाई के लिए दुल्हन लेकर आती है लेकिन आपको बता दें कि इस परम्परा में अपने भाई के लिए दुल्हन लाने के लिए बहन ही दूल्हा बनती है और फिर दुल्हन को घर लाती है। मतलब कि लड़के की जगह उसकी बहन दुल्हन से शादी करती है और उसकी विदाई करवाकर घर लाती है। ऐसे में यदि किसी लड़के की कोई बहन न हो तो उसका छोटा भाई इस रस्म को निभाता है और अपने भाई की जगह पर दूल्हा बनता है।

इस इलाके में यह परम्परा आज की नहीं है। यह परपंरा बेहद ही पुरानी है और कई सदियों से लगातार चलती आ रही है। इस इलाके में जिस भी लड़के की शादी होती है तो दुल्हन के लिए उसकी बहन ही दूल्हा बनती है।

इसके बाद शादी पूरे धूम-धाम और रीति-रिवाज से सम्पन्न करवाई जाती है। फिर आती है बारी विदाई की। तब नई-नवेली दुल्हन को दूल्हा बनी लड़के की बहन के साथ विदा किया जाता है और बहन दुल्हन को लेकर घर पहुंचती है। यह परम्परा लगातार चली आ रही है और आज भी जारी है।

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.