website counter widget

election

इन देशों में इस नाम से पहचाना जाता है दीपावली को…

0

दुनिया के कई ऐसे देश हैं, जहां दीपावली की ही तरह त्यौहार मनाया जाता है। हालांकि वे इस त्यौहार को दिवाली के नाम से नहीं बल्कि किसी दूसरे नाम से ही पुकारते हैं। खास बात यह है कि नाम के साथ इस त्यौहार से जुड़ी उनकी मान्यताओं में भी काफी अंतर है। जानते हैं किस देश में दिवाली को क्या कहकर पुकारते हैं और इसके पीछे क्या मान्यताएं हैं।

श्रीलंका में दीपावली

रावण के वध के बाद विभीषण को लंका का राजा बनाया गया। विभीषण ने रावण वध के बाद लंकावासियों को बुराई पर अच्छाई की जीत के लिए दीपोत्सव मनाने का आदेश दिया, जिसके बाद से श्रीलंका में अमावस्या के दिन दीपक जलाए जाते हैं।

जापान में ओनियो फायर फेस्टिवल

जापान में ओनियो फायर नाम से एक फेस्टिवल मनाया जाता है। एक सप्ताह तक चलने वाला यह त्यौहार बुरी आत्माओं को भगाने के लिए मनाया जाता है। इस त्यौहार में 6 बड़े मशाल जलाए जाते हैं।

म्यांमार में थैडिंगयुट फेस्टिवल

म्यांमार में तीन दिन तक दीपों का त्यौहार मनाया जाता है, जिसे लाइटिंग फेस्टिवल ऑफ म्यांमार के नाम से जाना जाता है। हर वर्ष अक्टूबर में यह त्यौहार भगवान बुद्ध और उनके शिष्यों के स्वागत के लिए मनाया जाता है।

इंग्लैंड में ऑटरी सेंट मैरी फेस्ट

हर साल 5 नवंबर को इंग्लैंड के ऑटरी सेंट मैरी शहर में एक फेस्ट होता है। इस फेस्ट का मुख्य आकर्षण आतिशबाजी होती है। इस फेस्ट की शुरुआत 1605 में हुई थी।

स्पेन में फालेस

 

स्पेन में मार्च में फालेस फायर फेस्टिवल मनाया जाता है। 5 दिन चलने वाले इस फेस्टिवल में लोग आतिशबाजी से जुड़े कई करतब दिखाते हैं।

ईरान में सादेह

इस त्यौहार को अंधार और सर्दी पर जीत और आग के सम्मान में हर वर्ष जनवरी के अंतिम सप्ताह में सादेह के नाम से मनाया जाता है।

 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.