website counter widget
wdt_ID Party1 Result1 Party2 Result2
1
wdt_ID Party1 Result1 Party2 Result2
1
wdt_ID Party1 Party2 Party3 Party4 Party5 Party6
1
2 184 92 3 4 7 000
3
4 000 3 139 56 45 326/543

विनाशकारी भूकंप से धरती में बनता है सोना

0

भूकंप (Earthquake) बेहद विनाशकारी होता है यह बात तो सभी जानते हैं। लेकिन भूंकप से जुड़े एक सच से लोग पूरी तरह से अनजान हैं। क्या आप जानते हैं कि भूकंप की वजह से धरती के अंदर सोने (Gold) का निर्माण भी होता है। यह बात जानकर आप हैरान रह गए होंगे और सोच रहे होंगे कि भला भूकंप से सोने का क्या लेना देना। तो चलिए आपको बता देते हैं कि आखिर भूकंप की वजह से किस तरह धरती के अंदर सोने का निर्माण होता है।

गौरतलब है कि वैज्ञानिकों ने गहन अध्ययन के बाद इस बात का पता लगाया कि भूकंप आने के तत्काल बाद ही धरती के अंदर सोना एकत्रित हो जाता है। ऑस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों का मानना है कि जब कभी भूकंप से धरती फट जाती है तो वह तत्काल ही एक प्रकार के द्रव से भर जाती है। भूकंप की वजह से धरती के अंदरूनी हिस्से में दबाव की कमी हो जाती है। लेकिन ऊपरी दवाब पड़ने की वजह से यह द्रव फैलने लगता है। चूंकि यह द्रव बेहद ही गर्म होता है और बाहरी वातावरण के सम्पर्क में आने से तेजी के साथ वाष्पीकृत भी होने लगता है। इस पूरी प्रक्रिया के दौरान जो सोने के कण होते हैं वह सतह पर बैठ जाते हैं। इसी कारण जब ज्वालामुखी फटता है तो वहां खोजकर्ताओं को सोना मिलता है।

एक रिपोर्ट में बताया गया है कि ज्वालामुखी या फिर भूकंप के द्वारा फटी दरारों से जो द्रव धरती की ऊपरी सतह पर आता है, वह हकीकत में धरती के दवाब से द्रव में परिवर्तित हुई बहुमूल्य धातुएं होती हैं। धरती के भीतरी हिस्से में भारी दवाब के कारण यह सभी धातुएं बेहद ही तरल मात्रा में होती हैं। इसी वजह से यह पता लगा पाना बेहद ही मुश्किल होता है कि इसमें कितनी मात्रा में सोना है। लेकिन जब यही द्रव दरारों से बाहर आने के बाद सूख जाता है तो इसमें से सोने को बेहद ही आसानी से खोजा जा सकता है।

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
Loading...
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.