इस गांव के लोगों ने 1300 सालों से नहीं रखा ज़मीन पर पैर 

1

पूरी दुनिया विभिन्न और विचित्र  प्राणियों से भरी हुई है। हर जगह का रहन-सहन वेशभूषा उस जगह को अलग पहचान देता है। कुछ लोग गांव में रहते हैं तो कुछ शहर में और कुछ पहाड़ों पर रहना पसंद करते हैं तो कुछ नदी किनारे। यदि आप को कहा जाए कि कुछ लोग पानी पर रहते हैं तो क्या आप यकीन करेंगे ? जी हां,यह ज़रूर आप के लिए हैरत की बात होगी, लेकिन इससे बड़ी बात यह है कि टांका जनजाति के कुछ लोग नहीं बल्कि पूरा गांव ही पानी पर रहता है।

शायद आपने कभी ऐसे घर की कल्पना भी नहीं की होगी, जो कि पानी के ऊपर हो। दुनिया में एक ऐसी बस्ती है, जो  पानी पर बसी है और वह भी पूरे 7000 लोगों की। समुद्र पर रहने वाले इन लोगों की बस्ती चीन में है। इस बस्ती में एक विशेष टांका जनजाति के लोग रहते हैं। चीन के फुजियान राज्य के दक्षिण पूर्व की निंगडे सिटी के पास के लगभग सात हजार मछुआरों की एक बस्ती है, जो आज भी समुद्र में परंपरागत तरीके से बनी हुई नावों पर रह रही है। आश्चर्य की बात यह है कि यह स्थिति कोई दस, बीस या पचास सालों की नहीं बल्कि तेरह सौ सालों से है।

इस टांका जनजाति के पानी पर रहने के पीछे की एक कहानी बताई जाती है।  चीन में कई सदियों पहले टांका कम्युनिटी के लोग वहां के शासकों के उत्पीड़न से इतने नाराज़ हुए कि उन्होंने समुद्र पर ही रहना तय कर लिया।ऐसा कहा जाता है कि करीब 700 ईसवी से लेकर आज तक ये लोग न तो धरती पर रहने को तैयार हुए हैं और न ही आधुनिक जीवन अपनाया है। ये लोग अब अपने तैरते हुए घरों पर ही रहना पसंद करते हैं और सदियों से चले आ रहे परंपरागत व्यवसाय में लगे हुए हैं।

ऐसे एक रात में 99 करोड़ का मालिक बना मजदूर

Video: इस गांव में सीटियां और संगीत बजाकर बात करते हैं लोग

Wow: अब भूसे से बनेगा गैसोलीन, मिल गया तरीका

Share.