अच्छे-अच्छे पहलवानों को धूल चटा रही 13 साल की यह पहलवान

0

आजकल एक 13 साल की पहलवान चर्चा में बनी हुई है, जो बड़े-बड़े पहलवानों को धूल चटा रही है| इस पहलवान को देखने के लिए लोग दूर-दूर से आ रहे हैं| दरअसल, पंजाब में इन दिनों छिंज मेला लगा हुआ है| इस मेले का केंद्र बनी हुई हैं रोजी घई नाम की 13 साल की पहलवान, जो दंगल गर्ल बनकर कुश्ती कर रही है और अच्छे-अच्छे पहलवानों को धूल चटा रही है| यह नन्हीं पहलवान अपने से दोगुनी उम्र के पहलवान को भी ओपन चैलेंज दे चुकी है और इतना ही नहीं दंगल गर्ल रोज़ी ने जीत भी हासिल की|

दरअसल, पंजाब के नवांशहर के गांव काठगढ़ के मेले में रोजी ने पहलवान को चैलेंज दिया तो वहां मौजूद सभी लोगों ने उसका मज़ाक बनाया, लेकिन जब दंगल गर्ल रोज़ी अखाड़े में उतारी और उसने युवक पहलवान को कुछ ही सेकंड में धूल चटा दी तो सभी हैरान हो गए| पहले तो किसी को विश्वास नहीं हुआ, लेकिन बाद में वहां तालियां गूंज उठी|

रोजी के पिता काले शाह भी पहलवान है, जो काठगढ़ के धार्मिक स्थान बाबा सखी राम टिब्बी अखाड़े के सेवादार हैं| वे अपनी बेटी को ट्रेन कर रहे हैं| काले शाह ने बताया कि सातवीं कक्षा में पढ़ने वाली रोजी पहले पहलवानी करने के लिए तैयार नहीं थी| उनका एक बेटा था, जो पहलवानी करता था|

वह मुल्लापुर अखाड़े में पहलवानी के दांव-पेंच सीख रहा था| वहां से दो महीने पहले ही वह लौटा और उसकी मौत हो गई| भाई की मौत के बाद अपने पिता की इच्छा के लिए रोजी अखाड़े में उतरी| अब बेटी पहलवानी कर रही है| वह छिंज मेलों में जाती है और लड़कों के साथ कुश्ती लड़ती है| पहले तो लोग कहते थे कि लड़की लड़कों के साथ कुश्ती नहीं कर सकती, लेकिन जब लड़की ने अपने दांव-पेंच दिखाकर लड़के को हरा दिया तो सब लोग हैरान है| दंगल गर्ल रोज़ी के पिता का कहना है कि बेटी एक दिन देश का नाम रोशन करेगी|

इस जंगल में जाते ही कम होता है तनाव….

जानिए, कैसे एक मजदूर रातोंरात करोड़पति बन गया

कही आपके नमक में प्लास्टिक तो नहीं?

Share.