महिला को डिलीवरी के 9 दिन पहले पता चला कि वह प्रेग्नेंट है

0

कई बार ऐसी घटनाएं भी घटित हो जाती हैं जिन्हे जानकार सभी चौंक जाते हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है अमरीका के लुइसियाना से। दरअसल यहां एक महिला को उसके प्रेग्नेंट होना का पता बच्चे के जन्म के मात्र 9 दिन पहले पता चला। इस अजीब घटना को खुद महिला ने अपने शब्दों में बयान किया है। दरअसल लॉरेन और कीथ चॉक कई सालों से बच्चे के लिए संघर्ष कर रहे थे। बच्चे की ख्वाहिश में इस दंपत्ति को दो बार गर्भपात का भी सामना करना पड़ा था। इसके बाद उन्होंने यह समझ लिया था कि वे कभी भी माता-पिता नहीं बन सकते। एक अंग्रेजी अखबार की खबर के अनुसार 28 साल की लॉरेन जब अपने माता-पिता के घर घूमने गई तब उन्हें पता चला कि वे प्रेग्नेंट(Best Christmas Gift) हैं और उसके 9 दिन बाद उन्होंने 2 दिसंबर 2019 को एक बच्चे को जन्म दिया।

लॉरेन बताती हैं कि उनकी मां एक डॉक्टर हैं और उन्होंने अपनी बेटी को सुझाव दिया कि वे एक बार प्रेग्नेंसी टेस्ट करवा लें। दरअसल उनकी मां को लगा लॉरेन के हॉर्मोन बंद हो सकते हैं इसलिए उन्होंने यह सुझाव दिया। इसके बाद लॉरेन ने थैंक्सगिविंग सप्ताह से पहले ही टेस्ट करवाया और वह सकारात्मक था। इसके बाद लॉरेन और कीथ ने डॉक्टर से अपॉइंटमेंट ले लिया। लेकिन जिस दिन उन्हें डॉक्टर से मिलने जाना था उसके ठीक एक दिन पहले लॉरेन ने अपने अंदर से खून निकलते देखा और वह काफी घबरा गईं। क्योंकि यह उन्हें पिछले गर्भपात की याद दिला रहा था। इसलिए लॉरेन और कीथ ने एक दिन पहले ही डॉक्टर से मिलने का निर्णय लिया।

दरअसल किशोरावस्था में लॉरेन पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस), एनीमिया और ल्यूपस एंटीकायगुलेंट से पीड़ित थी। इसलिए जब लॉरेन ने खून देखा तो तत्काल ही डॉक्टर से मिलने पहुंच गईं। डॉक्टर्स ने पाया कि लॉरेन का रक्त चाप काफी उच्च था। प्रसूति विशेषज्ञ (obstetrician) ने तत्काल ही लॉरेन का अल्ट्रासाउंड किया जिसमें उन्हें लॉरेन के पेट में पूरा विकसित बच्चा दिखाई दे रहा था। लॉरेन ने कहा कि उन्हें लगा था कि वे 4 या फिर 5 माह की प्रेग्नेंट हो सकती हैं लेकिन अल्ट्रासाउंड में जब उन्होंने एक पूरा विकसित बच्चा देखा तो वे इसे देख खौफ खा गईं। इसके बाद रिपोर्ट आई तो डॉक्टर्स ने तत्काल ही लॉरेन की डिलीवरी करने की बात कही।

2 दिसंबर 2019 को लॉरेन की डिलीवरी हुई और उन्होंने बच्चे को जन्म दिया। लॉरेन और कीथ ने अपने बच्चे का नाम Wyatt Rivers रखा है और शिशु का वजन लगभग 3 किलो था। इसके छह दिनों के बाद लॉरेन को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई और दंपत्ति अपने शिशु को घर लेकर आए। वहीं इसके बाद लॉरेन ने कहा, “मुझे लगता है कि भगवान(Best Christmas Gift) ने इस तरह से बच्चे के पैदा होने की योजना बनाई थी और कीथ भी इस बात से सहमत हैं।” लॉरेन ने कहा कि प्रेग्नेंसी को दौरान वह बिल्कुल बीमार नहीं पड़ीं और न ही उन्हें इस बात का पता चला। उन्होंने कहा कि पेट में हलचल तो महसूस होती थी लेकिन वे उसे गैस समझती थीं।

क्रिसमस ट्री को घर में सजाने से दूर रहती हैं बुरी आत्माएं

Video : ट्रैक्टर से अपने अंडों को बचाने के लिए चिड़िया ने फैलाए पंख

दुनिया का सबसे छोटा देश, जहा का राजा चलाता है रेस्त्रां

Prabhat Jain

Share.