website counter widget

भगवान को चढ़ाए फूलों से करें यह उपाय, बदल जाएगी किस्मत

0

हिन्दू धर्म में पूजा-अर्चना के दौरान या फिर किसी भी मंदिर में भगवान की मूर्ती पर फूल चढाने की परम्परा बेहद ही प्राचीन काल से चली आ रही है। हिन्दू धर्म की मान्यता के अनुसार भगवान और देवताओं को फूल अत्यधिक प्रिय होते हैं। इस बात का उल्लेख हिन्दू धर्म शास्त्रों में और ज्योतिषशास्त्र में मिलता है। शास्त्रों के अनुसार हर भगवान को विभिन्न तरह के फूल अर्पित किए जाते हैं। लेकिन भगवान को चढ़ाए जाने वाले फूल कुछ ही समय में मुरझा जाते हैं और सूख जाते हैं। जब यह फूल सूख जाते हैं तो इसे लोग जल में प्रवाहित कर देते हैं।

रखवाली के साथ ही संकट से मुक्ति भी दिलाता है कुत्ता

ऐसी मान्यता है कि इन फूलों को या फूल मालाओं को जल में प्रवाहित करना चाहिए। हालांकि कई लोग इन्हे जल में प्रवाहित करने की जगह पर इन्हे फेंक देते हैं। लेकिन फूलों को फेंकना और उन्हें जल में प्रवाहित करना दोनों ही किसी पाप से कम नहीं होता। शास्त्रों में इसे किसी पाप से कम नहीं समझा गया है। लेकिन आज के दौर में लोग सूखे हुए फूलों को जल में प्रवाहित करते हैं। अगर आप इस पाप से बचना चाहते हैं तो हम बताने जा रहे है कि किस तरह आप इस पाप से बच सकते हैं। ज्योतिष शास्त्र में भगवान को चढ़ाए गए फूलों के कई उपाय बताए गए हैं। ज्योतिष में बताए गए उपायों को अपनाकर आप अपने जीवन को सुखी बना सकते हैं और पाप से भी बच सकते हैं।

Weekly Worship : दिन के हिसाब से करें यह उपाय, मिलेगी अपार सफलता

अगर आपको जीवन में किसी भी तरह की कोई भी बाधा आ रही हो तो आप भगवान् के चरणों में अर्पित फूल को किसी सुनसान भूमि में लकड़ी से खोदकर दबा दें। ऐसा करने से आपकी सभी समस्याएं ख़त्म हो जाएंगी। यदि शनि की साढ़े साती की वजह से आपको शादी में अड़चन आ रही है तो आपको शनिवार के दिन भगवान के चरणों में अर्पित फूल को सुरमे के साथ भूमि में दबा देना चाहिए। यह उपाय करने से शनि का प्रभाव आपके जीवन पर नहीं पड़ता।

इन उपायों को आजमाएं बरसेगा धन ही धन

अगर आप अपनी मनोकामना पूर्ण करना चाहते हैं तो शुक्ल पक्ष के पहले मंगलवार के दिन हनुमान जी को चढ़ाए गए गुलाब के फूलों में से 11 फूल उठाकर अपने पास रखें। ऐसा करने से हनुमान जी की कृपा पर बरसने लगती है और सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है। इसके अलावा यदि फूल को अपनी तिजोरी में रखते हैं तो आय में वृद्धि होती है।

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.