सावन के दूसरे सोमवार को हैं ये 3 शुभ संयोग, मिलेगा लाभ ही लाभ

0

सावन माह बेहद ही पवित्र माना जाता है और यह महीना भगवान शिव का प्रिय महीना माना जाता है। शिवपुराण के अनुसार प्रत्येक वर्ष सावन के महीने में भगवान शिव की आराधना करने से उनकी कृपा हमेशा बनी रहती है। सावन के महीने में सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा करना बेहद ही शुभ होता है। लेकिन इस बार सावन महीने दूसरे सोमवार (Sawan 2019 Second Monday) को 3 शुभ संयोग होने की वजह से यह बेहद ही  ज्यादा लाभदायक साबित होने वाला है। आज यानी 29 जुलाई को 3 शुभ संयोगों के साथ ही सावन का दूसरा सोमवार है।

चलिए जानते हैं कि किन-किन संयोग की वजह से यह सोमवार (Sawan 2019 Second Monday) अधिक शुभफलदायी हो गया है:

किस पेड़ की पूजा से चमकेगी आपकी किस्मत ?

सोम प्रदोष

सबसे पहले तो आपको बता दें कि आज संध्या काल में त्रयोदशी लगने वाला है। मतलब कि सावन के दूसरे सोमवार के दिन प्रदोष व्रत हो गया है। प्रदोष व्रत भी भोलेनाथ की कृपा पाने का व्रत होता है। वहीं सावन सोमवार के दिन इसके होने से इसका महत्व और भी बढ़ गया है। संतान सुख की इच्छा रखने वालों को लिए यह बेहद ही शुभफलदायी है। प्रदोष व्रत का लाभ उठाने के लिए सूर्यास्त से पहले पंचामृत यानी दूध, घी, गंगाजल, शहद और दही से भोलेनाथ का अभिषेक करना चाहिए।

Shivling Worship In Sawan : सावन में भारी महिलाओं की यह गलतियां

सर्वार्थ सिद्धि योग में

इसी दिन सर्वार्थ सिद्धि योग भी बन रहा है जो सुबह सूर्योदय से शुरू होकर सूर्यास्त तक रहेगा। इस योग में किसी भी शुभ कार्य को करने से शुभ फल प्राप्त होता है। साथ ही भगवान शिव की आराधना करने से सारी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

अमृत सिद्धि योग

हनुमानजी को प्रसन्न करने के लिए कुछ खास मंत्र

प्रदोष व्रत और सर्वार्थ सिद्धि योग के साथ ही इस दिन तीसरा सबसे उत्तम संयोग है अमृत सिद्धि योग। इस योग में गंगा स्नान करना और भोलेनाथ व विष्णुजी की पूजा करना अमृत के समान माना जाता है। इसका फल अमृतदायी होता है। शिवपुराण में इसका वर्णन मिलता है कि इस योग में कोई भी शुभ कार्य करने से उसका फल अमृत के सामान प्राप्त होता है। इस वजह से इन तीनों योग के मिलने से आज दान, योग, ध्यान, मंत्र सिद्धि आदि किया जाना चाहिए।

Share.