वैशाख पूर्णिमा का महत्व

0

30 अप्रैल को वैशाख पूर्णिमा है, जो बहुत ख़ास मुहूर्त लेकर आ रही है| बताया जा रहा है कि इस बार पूर्णिमा पर तीन साल के बाद सिद्धि योग का संयोग बन रहा है| यह दिन शुभ कार्य, दान-पुण्य और खरीदारी के लिए शुभ माना जाता है| 30 अप्रैल के बाद अब ऐसा योग वर्ष 2022 में बनेगा|

वैशाख पूर्णिमा के दिन बुद्ध जयंती का पर्व भी मनाया जाता है| यह पूर्णिमा सोमवती पूर्णिमा भी कहलाती है| इस दिन लक्ष्मी मां की भी खास पूजा की जाती है तथा दान-पुण्य करने से भगवान् गणेश भक्तों को हर तरह की सिद्धि प्रदान करते हैं|

इन उपायों को करने से मिलेगा लाभ

वैशाख​  पूर्णिमा के दिन कुछ ख़ास उपाय करने से आपको विशेष फल मिल सकता है| इस दिन हनुमानजी को प्रसन्न करने के लिए सिंदूर और चमेली का तेल चढ़ाएं|  पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाने से आपकी शनि की साढ़ेसाती कम हो सकती है| इस दिन खासकर यदि लक्ष्मी मां को प्रसन्न करना चाहते हैं तो पीपल के पेड़ के नीचे घी का दीया जलाएं| कुंवारी कन्याओं को खाना खिलाएं और उपहार दें|

Share.