हथेली में है यह योग तो तरक्की है निश्चित

0

जिस तरह ग्रह-नक्षत्र लोगों के जीवन पर प्रभाव डालते हैं उसी तरह इंसान की हथेलियों की रेखा भी इंसान के जीवन पर गहरा प्रभाव डालती है। इंसान की हथेलियों की रेखाएं देखकर बहुत कुछ जाना जा सकता है। जैसे यदि किसी व्यक्ति के हथेलियों के बीच का हिस्सा थोड़ा दबा हुआ सा और गहरा हो, इसके अलावा यदि सूर्य और गुरु पर्वत काफी मजबूत, उभरा हुआ और पुष्ट हो तो वह व्यक्ति व्यक्तित्व का बेहद धनी होता है।

बुधवार को इन 5 टोटकों को करने से श्री गणेश जरूर होते हैं प्रसन्न

अगर उस व्यक्ति की हथेलियों में भाग्य रेखा शनि पर्वत के मूल से छूती हो तो उस व्यक्ति की हथेली पर शुभकर्तरी योग माना जाता है। हस्तरेखाशास्त्र के मुताबिक जिस व्यक्ति की हथेली में इस तरह का योग बनता है वह बेहद ही तेजस्वी माना जाता है। कहा जाता है ऐसे व्यक्ति चुंबकीय व्यक्तित्व के बेहद ही धनी होते है। हस्तरेखाशास्त्र के अनुसार इस योग वाले व्यक्ति के चारों तरफ ऐश्वर्य और भौतिक सुख-सुविधाएं हमेशा रहती हैं। उस व्यक्ति को एक नहीं बल्कि कई साधनों से आय प्राप्त होती है।

Future By Palm Colour : हथेली के रंग का और भविष्य का गणित

जिस भी व्यक्ति के हाथ में इस तरह का योग बनता है तो वह व्यक्ति अपने पूर्वजों से मिली सम्पत्ति को काफी अधिक बढ़ाता है। हस्तरेखाशास्त्र के अनुसार शारीरिक दृष्टि से भी ऐसे व्यक्ति काफी आकर्षक दीखते हैं। इन व्यक्तियों के जीवन में विपरीत लिंगी व्यक्तियों की अत्यधिक वृद्धि होती है। इसके अलावा हस्तरेखा शास्त्रियों का कहना है कि जिस व्यक्ति के दोनों ही हाथों में भाग्य रेखा मणिबंध से प्रारंभ होकर सीधी शनि पर्वत पर जाती हो। सूर्य रेखा बिना पतली और स्पष्ट हो और उसमे किसी तरह की कोई बाधा न हो, और उस व्यक्ति के हाथ में मस्तिष्क रेखा, हृदय रेखा तथा आयु रेखा पूर्ण रूप से स्पष्ट दिखाई देती हो तो इसे गजलक्ष्मी योग कहा जाता है।

घर का वास्तु दोष बन सकता है आत्महत्या का कारण

जिस व्यक्ति के हाथ में यह योग होता है वह व्यक्ति हर जगह सम्मान पाता है। अगर इस योग के साथ व्यक्ति किसी साधारण परिवार में भी जन्म ले तब भी वह अपने शुभ कर्मों के कारण बेहद ही उच्च स्तरीय जीवन प्राप्त करता है। उसे हर तरह के ऐश्यर्व और सुख प्राप्त होते हैं। ऐसे व्यक्ति को अपने कार्यस्थल पर बेहद जल्द उच्च पदों की प्राप्ति होती है।

Share.