website counter widget

स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक है रूबी, जानिए कैसे ?

0

ज्योतिष की दुनिया में रत्नों का विशेष महत्व (Benefits Of Wearing Ruby Stone) है। बिगड़े और क्रोधित ग्रहों को शांत करना हो या अस्त ग्रहों के प्रभाव को बढ़ाना हो तो इन सभी हालातों में ज्योतिषशास्त्री जातक को रत्न पहनने  की सलाह देते हैं निश्चित तौर पर रत्न आपके जीवन की बड़ी परेशानियों का समाधान बन सकते हैं, बशर्ते वे शुद्ध हों|  साथ ही साथ उन्हें पहनने के लिए जो नियम निर्धारित किए गए हैं, उनका ध्यान रखना भी अत्यंत आवश्यक है।

रुबी (Benefits Of Wearing Ruby Stone) सूर्य ग्रह का रत्न होता है यानी जिनका सूर्य कमजोर हो, उन्हें इस रत्न को पहनने की सलाह दी जाती है। यह रत्न सिर्फ आपकी किस्मत ही नहीं चमकाता, बल्कि आपको स्वस्थ भी रखता है |

Future By Palm Colour : हथेली के रंग का और भविष्य का गणित

रुबी पहनने से कई शारीरिक और मानसिक फायदे होते हैं। आइए आज रुबी पहनने के इन्हीं फायदों को जानें (Benefits Of Wearing Ruby Stone) :

# शारीरिक दिक्कतों से छुटकारा

शरीर की हर दिक्कतों से छुटकारा पाना है तो रुबी पहनना शुरू कर दें। शरीर में विटामिन डी की कमी हो तो आप तांबे की अंगूठी में रूबी डलवाकर पहनें। अपच, पीलिया, दस्त, रीढ़ की समस्याओं, लो और हाई ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियां भी इस रत्न के पहनने से सही होने लगती हैं।

# प्रेम भावना से करता है लबरेज

सूर्य जिसका जितना बलवान होता है वह उतना ही नर्म दिल का और लोगों को प्रेम करने वाला होता है। इसलिए अगर सूर्य कमजोर हो तो रुबी जरूर पहने इससे आपके अंदर प्रेम की भावना भरेगी।

घर का वास्तु दोष बन सकता है आत्महत्या का कारण

# एकाग्रता को बढ़ती है रुबी

जिन लोगों में एकाग्रता की कमी हो या हमेशा कुछ न कुछ भम्र बना रहता है उन्हें रुबी ज़रूर पहनना चाहिए। रुबी पहनने वालों का दिमाग तेज होता है और उनकी याददाश्त भी बेहतर होती है। रुबी पहनने वाले लोगों का लक्ष्य भटकता नहीं।

# डिप्रेशन से लड़ने में मददगार

सूर्य जब नीच का होता है तो मानसिक समस्याएं बढ़ती हैं। इसके कारण डिप्रेशन, चिंता, तनाव का बढ़ना तय है। लेकिन जो रुबी पहनते हैं उनके अंदर ये लक्षण नजर नहीं आते। रुबी न केवल डिप्रेशन जैसी समस्या से लड़ता है बल्कि वह ब्लड रिलेटेड डिजीज और आंखों की समस्याओं को भी दूर करता है।

इंसान की हथेलियों में छुपा है सरकारी नौकरी का राज

# आत्मबल ही नहीं नेतृत्व की क्षमता भी बढ़ाता है

माणिक यानी रुबी बनने वालों का आत्मबल तेजी से बढ़ता है। सूर्य के समान उनमें तेजी आती है और इसी कारण उनमें नेतृत्व क्षमता भी विकसित होती है। किसी भी क्षेत्र में अगर व्यक्ति में लीडरशिप का गुण हो तो वह बहुत ऊंचाई पाता है। इसलिए रुबी स्टूडेंट्स को भी पहनना चाहिए।

# स्किन होगी बेहतर और हड्डियां बनेंगी मजबूत

रुबी पहनने वालों की खूबसूरती उसके रत्न की तरह ही चमकदार और प्रभावशाली हो जाती है। सूर्य स्किन डिजीज को बढ़ाता है और हड्डियों को कमजोर करता है, लेकिन रुबी पहन कर इस समस्या से भी मुक्ति पाई जा सकती है।

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.