website counter widget

चंद्र ग्रहण का बन रहा दुर्लभ संयोग, जरूर करें ये उपाय

0

इस साल पड़ने वाले चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse 2019) का दुर्लभ संयोग 149 साल बाद बन रहा है। यह चंद्र ग्रहण खंडग्रास चंद्रग्रहण है जो कि 16 जुलाई की मध्यरात्रि होगा। यह चंद्रग्रहण का बेहद दुर्लभ संयोग माना जा रहा है क्योंकि यह खंडग्रास चंद्र ग्रहण गुरु पूर्णिमा के साथ पड़ रहा है। धर्मशास्त्रों के अनुसार चंद्र ग्रहण से 9 घंटे पहले (शाम 4:31 बजे) ही सूतक लग जाएगा। यह चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse 2019) भारत में 16 जुलाई की मध्यरात्रि 1:31 से सुबह 4:31 तक चलेगा। यह चंद्र ग्रहण माघ पूर्णिमा के अवसर पर 149 साल बाद लग रहा है इसलिए इसे दुर्लभ संयोग माना जा रहा है।

Shayani Ekadashi 2019 : यहां जानें देवशयनी एकादशी की व्रत विधि

कुछ राशियों पर इस चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse 2019) का अशुभ प्रभाव होगा तो वहीं कुछ राशियों के लिए यह शुभफलदायी साबित होगा। इस दौरान पूजा-अर्चना और दान करने से लाभ होगा। मिली जानकारी के अनुसार यह चंद्र ग्रहण इस वर्ष का सबसे बढ़ा ग्रहण माना जा रहा है। इस खंडग्रास चंद्रग्रहण की कुल अवधि 2 घंटे 59 मिनट होगी। इस चंद्र ग्रहण  का सूतक 16 जुलाई को शाम 4:31 बजे से शुरू हो जाएगा।

वास्तुशास्त्र के अनुसार इस दिशा में रखें अपनी डाइनिंग टेबल

ज्योतिषचार्यों का कहना है कि ग्रहण काल के दौरान देवी-देवताओं की मूर्ति को नहीं छूना चाहिए। इसके साथ ही इस दौरान अनावश्यक खानपान, सोना, नाखून -बाल काटना, हजामत बनाना, तेल मालिश करना, अनावश्यक घूमना आदि भी तकलीफदेह हो सकता है।

राशियों पर प्रभाव

मेष – इस राशि के जातकों के शरीर में कष्ट की संभावना है।

वृष – संतान कष्ट एवं चिंता की संभावना है।

मिथुन – शत्रु भय और खर्च अधिक रहेगा।

कर्क :- दांपत्य जीवन में परेशानी की संभावना।

सिंह:-  गुप्त चिंता एवं परिवार में झगड़ा व रोग में वृद्धि हो सकता है।

कन्या:- व्यय की अधिकता रहेगी और बनते कार्य में रुकावट रहेगी।

तुला:- यह ग्रहण शुभ रहेगा व समस्त कार्य की सिद्धि एवं धन लाभ होगा।

वृश्चिक:-  मिश्रित फल वाला ग्रहण साबित होगा। धन लाभ के साथ खर्च भी बढ़ेगा।

धनु:- धन की हानि, शारीरिक परेशानी और यात्रा की संभावना।

मकर:- दुर्घटना की संभावना है।

कुंभ:- धन हानि हो सकती है।

मीन:- इस राशि के जातकों को शुभ फल मिलेगा और धन लाभ एवं आर्थिक तथा सामाजिक उन्नति का योग बनेगा।

ज्योतिषचार्यों के अनुसार इस चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse 2019) के दौरान ‘श्री विष्णवे नम:’ मंत्र का जाप करना हितकारी होगा। अशुभ परिणाम से बचने के लिए पवित्र जगह पर बैठ कर चंद्र ग्रहण की अवधि में इस मंत्र का जाप करें।

गुरुपूर्णिमा पर साईं बाबा को चढ़ाएं महाप्रसाद, मनोकामना पूर्ति होगी

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.