website counter widget

इन 8 बातों का ध्यान रखें, पढ़ाई में मिलेगी सफलता

0

बच्चों का मन काफी चंचल होता है| कई बच्चे ऐसे होते हैं, जिनका पढ़ाई करने में मन नहीं लगता (Vastu Tips For Study Room ) है। अभिभावकों को लगता है कि बच्चे जानबूझकर पढ़ाई नहीं करते हैं| वे सोचते हैं पढ़ाई के लिए उन्हें कितना ही समझाया जाए, लेकिन कोई फायदा नहीं होता। वहीं कई स्टूडेंट ऐसे भी होते हैं, जिन्हें बहुत मेहनत करने पर भी उसे सफलता नहीं मिलती। क्या आप जानते हैं कि बच्चे की असफलता का कारण उसका स्टडी रूम और उससे जुड़े वास्तु दोष भी हो सकते हैं।

अपनाएं वास्तु के यह उपाय नहीं आएगी कभी परेशानी

यदि बच्चे के स्टडी रूम से जुड़ी इन 8 बातों का ध्यान रखा जाए तो पढ़ाई में सफलता मिल सकती है|

Vastu Tips For Study Room In Hindi :

माता सरस्वती की तस्वीर

Image result for माता सरस्वती की तस्वीर

वास्तु के अनुसार, बच्चों के स्टडी रूम में माता सरस्वती की तस्वीर भी जरूर लगानी चाहिए। साथ ही स्टडी टेबल दीवार से सटा होना चाहिए और किताबों को साउथ ईस्ट दिशा में रखें।

बच्चों के कमरे में ज़रूर हो ये चीजें

Image result for प्रिज्म

वास्तु शास्त्र के अनुसार, बच्चों के स्टडी रूम में एक पेंडुलम वॉच, ग्लोब और प्रिज्म जरूर होना चाहिए। इससे उनकी स्मरण शक्ति बढ़ती है साथ ही उनका पढ़ाई में ध्यान भी लगता है।

सही दिशा में हो स्टडी रूम

बच्चों का अध्ययन कक्ष उत्तर-पूर्व दिशा में होना चाहिए। यदि इस दिशा में पढ़ाई करना संभव न हो तो पूर्व, उत्तर या पश्चिम दिशा में मुंह करके पढ़ाई कर सकते हैं। इससे उनका मन पढ़ाई में ज्यादा लगता है।

न करें यह छोटी-छोटी गलतियां, वरना परिणाम होगा बहुत बुरा

कमरे में हो पर्याप्त रोशनी

Image result for कमरे में हो पर्याप्त रोशनी

इस बात का ध्यान रखें कि बच्चे के स्‍टडी रूम में रोशनी की पर्याप्त व्यवस्था हो और वहां अंधेरा न रहे। इससे उनके कमरे में सकारात्मक ऊर्जा होगी।

कमरे का कलर भी हो सही

बच्चों के स्टडी रूम में हल्के रंग जैसे हल्का पीला, गुलाबी, आसमानी, हल्का हरा आदि करवाएं। इससे उनका दिमाग शांत रहेगा और स्मरण शक्ति भी बढ़ेगी।

पूर्व दिशा में होना चाहिए सिर

Image result for छात्र सोते समय सिर पूर्व दिशा

बच्चों का सोते समय सिर पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए। ऐसे सोने से उनकी स्मरण-शक्ति बढ़ेगी और सेल्फ स्टडी में भी उनका मन लगेगा।

वास्तु के छोटे-छोटे उपाय अपनाएं, परेशानियों से बचें

इन बातों का भी रखें ध्यान

# अच्छी नींद लेने से दिमाग फ्रेश रहता है इसलिए बच्चों को भरपूर नींद लेने के लिए भी कहें।
एग्जाम के समय ज्यादा से ज्यादा डार्क चॉकलेट, ब्लूबेरी, बादाम आदि चीजें खाएं। इसके अलावा उनके सही समय पर भोजन करने के लिए कहें।

#  पढ़ाई करते समय अपने आस-पास का वातावरण शुद्ध होना चाहिए। सुगंध वाला वातावरण होना चाहिए, कमरे में दुर्गंध नहीं होना चाहिए।

Image result for  पढ़ाई करते समय अपने आस-पास का वातावरण शुद्ध

#  सूर्योदय से पहले यानी सुबह 4.30 बजे से सुबह 10 बजे तक पढ़ाई करना बच्चों के लिए फायदेमंद रहता है। रात को अधिक देर तक पढ़ना स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं है। बच्चों पर अच्छे मार्क्स लाने के लिए दवाब न डालें।

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
Loading...
Share.