बड़ा ही दिव्य और चमत्कारी है कामदा एकादशी व्रत

0

आज कामदा एकादशी ( Kamada Ekadashi 2019) है| यह दिन भगवान विष्णु की कृपा पाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण दिन होता है| कामदा एकादशी का व्रत बड़ा ही दिव्य और चमत्कारी माना जाता है| हिंदू पंचांग के अनुसार एकादशी चैत्र शुक्‍ल पक्ष की एकादशी को मनाई जाती है। इस बार यह एकादशी 15 अप्रैल दिन सोमवार को पड़ रही है। इस दिन भगवान विष्णु के साथ वासुदेव श्रीकृष्ण की उपासना से सभी सांसारिक दोष और पापों का नाश होता है| कामदा एकादशी का व्रत रखने से न सिर्फ पुण्‍य की प्राप्‍ति होती है बल्‍कि इंसान को प्रेत योनि से भी मुक्ति मिलती है। यह पहली एकादशी है जो चैत्र नवरात्रि और रामनवमी के बाद मनाई जाएगी। एकादशी को समस्त सांसारिक कामनाओं की पूर्ति के लिए बेहद खास माना गया है।

क्या प्रभाव डालते हैं सड़क पर मिले पैसे?

lord vishnu

कामदा एकादशी की कथा ( Kamada Ekadashi 2019 Story)

मान्यता के अनुसार भोगीपुर नगर में पुण्डरीक नामक नाग राज करता था। इनके दरबार में गायन और वादन में निपुण किन्नर व गंधर्व रहा करते थे। एक दिन ललित नाम का गन्धर्व दरबार में गायन कर रहा था। अचानक उसे अपनी पत्नी की याद आ गई। इससे उसका स्वर, लय एवं ताल बिगड़ गया। इससे नाराज होकर पुण्डरीक ने ललित को राक्षस बन जाने का शाप दे दिया।

ललित के राक्षस बन जाने पर उसकी पत्नी ललिता दुःखी रहने लगी। एक दिन वन में ललिता को ऋष्यमूक ऋषि मिले। इन्होंने ललिता के दुःख को जानकर चैत्र शुक्ल एकादशी का व्रत करने की सलाह दी। ललिता ने ऋषि के बताए नियम के अनुसार व्रत पूरा किया। इसके बाद व्रत का फल अपने पति ललित को दे दिया। इससे ललित वापस राक्षस से गंधर्व रुप में लौट आया। इस व्रत के पुण्य से ललित और ललिता दोनों को उत्तम लोक में भी स्थान प्राप्त हुआ।

Weekly Horoscope : साप्ताहिक भविष्यफल 14  अप्रैल से 20  अप्रैल तक

कामदा एकादशी ( Kamada Ekadashi 2019) के दिन भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। ये है इस व्रत की विधि |

– इस दिन सुबह नहाकर पहले सूर्य को अर्घ्य दें| भगवान विष्णु का फल, फूल, दूध, पंचामृत, तिल आदि से पूजन करें।

– भगवान विष्णु और कान्हा को पीले फूल, फल, पंचामृत और तुलसी दल अर्पित करें|

– इसके बाद भगवान कृष्ण और विष्णु का ध्यान करें और उनके मन्त्रों का जाप करें|

– इस दिन पूरी तरह जलीय आहार या फलाहार लें तो इस व्रत के उत्तम परिणाम मिलेंगे|

– अगर केवल एक वेला रखें तो दूसरी वेला में वैष्णव भोजन ही ग्रहण करें|

– अगले दिन सुबह किसी निर्धन को एक वेला का भोजन या अन्न दान करें|

– इस दिन मन को ईश्वर में लगाएं| क्रोध न करें और झूठ न बोलें|

-रात में सोने के बजाय भजन-कीर्तन करें और अगले दिन पूजन कर ब्राह्मण को भोजन कराएं और दक्षिणा दें।

Image result for kamada ekadashi

पाप नाश के उपाय

– भगवान कृष्ण को चन्दन की माला अर्पित करें|

– इसके बाद “क्लीं कृष्ण क्लीं” का 11 माला जाप करें|

– अर्पित की हुई चन्दन की माला को अपने पास रखें|

– आपके नाम और यश में वृद्धि होगी|

इन राशियों वाले पहनें चांदी का छल्ला

एकादशी व्रत ( Kamada Ekadashi 2019) से मिलेगा संतान का वरदान

Image result for kamada ekadashi

– पति-पत्नी संयुक्त रूप से भगवान कृष्ण को पीला फल और पीले फूल अर्पित करें|

– एक साथ संतान गोपाल मंत्र का कम से कम 11 माला जाप करें|

– फिर संतान प्राप्ति की प्रार्थना करें|

– फल को पति-पत्नी प्रसाद के रूप में ग्रहण करें|

अगर एकादशी का व्रत ( Kamada Ekadashi 2019) नहीं रख पाएं तो ये उपाय करें

Related image

– स्नान के बाद भगवान विष्णु या श्रीकृष्ण की पूजा करें|

– सात्विक रहें औऱ मन को पवित्र रखें|

– इस दिन अन्न और भारी भोजन खाने से परहेज करें|

– ज्यादा से ज्यादा समय ईश्वर की उपासना में लगाएं|

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.