हस्तरेखा ज्ञान : हाथ में बने त्रिशूल का अर्थ

0

हस्तरेखा शास्त्र (Hastrekha Trisul Shastra) के जानकार के अनुसार इंसान के हाथ में ऐसे चिन्ह पाए जाते जिनको एक जानकार हस्तरेखा पाठक पढ़ें तो आपके जीवन का पूरा ब्यौरा दें सकता हैं| धन, संपत्ति, नौकरी, पद और सुख-दुःख से जुड़ी हर बात का जबाव आपके हाथों की रेखाएं बता देती है| कई लोगों के हाथ में त्रिशूल (Hatheli Me Trishul ka chinha) का चिन्ह होता है जिसका अपना एक विशिष्ट मतलब होता हैं| लेकिन आज के समय में ज्‍योतिषी के पास जाने का समय और जरा विश्वास की भी कमी है|

भयंकर नुकसान पहुंचाती है घर के सामने यह चीज़ें

हाथों में बन रहे इन त्रिशूल का मतलब (Hastrekha Trisul Shastra) आप भी जानिए –

सूर्य पर्वत पर त्रिशूल(Surya Parvat Per Trishul)– यदि किसी व्यक्ति की सूर्य रेखा या सूर्य पर्वत पर त्रिशुल बन रहा है तो ऐसे व्यक्ति का जीवन ऐशों आराम की कोई कमी नहीं रहती | ऐसे व्यक्ति को समाज में मान, सम्मान, धन की कभी भी कमीं नही होती | धन आगमन के लिए इस प्रकार का चिन्ह काफी शुभ माना जाता है|

उंगलियों पर त्रिशूल की स्थिति (Ungliyo Per Trishul ki Stithi) – त्रिशूल उंगलियों की दिशा में बना हो तो यह बहुत ही शुभ फलदायी होता है| त्रिशूल उंगलियों की विपरित दिशा यानी उल्टा बन रहा हो तो यह अशुभ होता है|

उल्टा त्रिशूल (Ulta Trishul) – हाथों में उल्टा त्रिशूल जीवन में संघर्षों का प्रतिक है| ऐसे व्यक्ति का जीवन संघर्ष से भरा होता है|

इस राशि की महिलाओं का ससुराल में चलता है हुकुम

भाग्य रेखा और शनि पर्वत पर त्रिशूल (Bhagya Rekha or Shani Parvat Per Trishul) -भाग्य रेखा या शनि पर्वत पर त्रिशुल व्यापारी या नौकरी में किसी ऊंचे पद वाले व्यक्ति के हाथ में होता है| सूर्य रेखा से इन्हे अनेकों शुभ फल मिलते हैं|

हृदय रेखा पर त्रिशूल (Heridaya Rekah Per Trishul) – हृदय रेखा पर त्रिशूल भावुक व्यक्ति की निशानी है| इस प्रकार के चिन्ह वाले व्यक्ति को जीवन में निरंतर धोखे मिलते रहते हैं| अब आप जान गये होंगे की आपके हाथ में बने त्रिशूल या आपके किसी अपने की हाथों की रेखा में बने त्रिशूल का क्या मतलब है|

आपकी होने वाली पत्नी की राशि यह तो नहीं ?

Share.