Hartalika Teej 2019 : तीज व्रत की सही तिथि व पूजा का शुभ मुहूर्त

0

हरतालिका तीज (Hartalika Teej 2019) जिसे सौभाग्य का व्रत कहा जाता है प्रतिवर्ष भाद्र शुक्ल तृतीया तिथि को मनाई जाती है। इस दिन भगवान शिवशंकर और माता पार्वती की पूजा अर्चना की जाती है। हरतालिका तीज भगवान शिव और मां पार्वती को समर्पित है। लेकिन इस वर्ष इस व्रत को लेकर काफी असमंजस की स्थिति निर्मित हो गई है। क्योंकि पंचांग की गणना के अनुसार तृतीया तिथि का मान ही नहीं है और इस तिथि का क्षय हो गया है। इसके अनुसार 1 सितम्बर को द्वितीया तिथि में सूर्योदय होगा जो 8 बजकर 27 मिनट पर समाप्त हो जाएगी। इसके बाद तृतीया तिथि शुरू हो जाएगी। तृतीया तिथि 2 सितंबर को सूर्योदय से पूर्व समाप्त हो जाएगी और चतुर्थी प्रारम्भ हो जाएगी।

Ganesh Chaturthi 2019 : जानिए गणेश चतुर्थी का शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

Hartalika Teej 2019 Status :

https://youtu.be/AM2uJQonTdo

Hartalika Teej 2019 Pooja Vidhi :

तृतीया तिथि 2 सितंबर को सुबह 4 बजकर 57 मिनट पर समाप्त होगी। ऐसे में तीज का व्रत रखने वाली महिलाओं को काफी दुविधा है कि वे किस दिन व्रत रखें। ऐसा नहीं है कि तिथि को लेकर मतभेद सिर्फ व्रत करने वालों में हैं बल्कि ज्योतिषशास्त्री और पंचांग के जानकारों में भी इसे लेकर मतभेद है। कई जानकारों का कहना है कि 1 सितंबर को हरतालिका तीज व्रत (Hartalika Teej 2019) का पालन करना शास्त्रानुसार होगा क्योंकि यह व्रत सिर्फ हस्त नक्षत्र में किया जाता है। यह हस्त नक्षत्र 1 सितंबर को होगा।

यहां देखें सितंबर माह के व्रत और त्योहारों की सूची

वहीं कुछ विद्वान 2 सितंबर को हरतालिका तीज (Hartalika Teej 2019) को उचित मान रहे हैं। उन्होंने अपने तर्क में कहा है कि शास्त्रों में चतुर्थी तिथि व्याप्त तृतीया तिथि को सौभाग्य वृद्धि का कारक माना गया है। इन जानकारी के मुताबिक़ ग्रहलाघव पद्धति से बने पंचांग के अनुसार 8 बजकर 58 मिनट तक तृतीया तिथि रहेगी। तत्पश्चात चतुर्थी प्रारम्भ होगी। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि इस व्रत का हस्त नक्षत्र में पालन करना चाहिए लेकिन इसका पारण चित्रा नक्षत्र में किया जाना चाहिए। ऐसे में 2 सितंबर को ही तीज का व्रत रखना शास्त्र सम्मत होगा।

Weekly Horoscope : साप्ताहिक भविष्यफल 25 अगस्त 31 अगस्त

Hartalika Teej 2019 पूजा का शुभ मुहूर्त

इस मतभेद के बीच इस बार हरतालिका तीज का व्रत दोनों तिथियों में रखा जाएगा। जो महिलाएं 1 सितंबर को तीज का व्रत रखेगी उनके लिए पूजा का शुभ मुहूर्त शाम में 6 बजकर 15 मिनट से 8 बजकर 58 मिनट तक रहेगा।

वहीं 2 सितंबर को पूजा का शुभ मुहूर्त सूर्योदय से 2 घंटे तक ही रहेगा। ऐसे में सूर्योदय से 2 घंटे के अंदर ही पूजा करना होगी। सुबह 8 बजकर 58 मिनट तक ही पूजा का शुभ मुहूर्त रहेगा।

Share.