Dev Uthani Ekadashi 2019 : करें यह उपाय तो बन जाएंगे धनवान

0

कार्तिक माह की शुरुआत होते ही देश में त्योहारों की शुरुआत हो जाती है। कार्तिक माह में सबसे पहले दिवाली का त्यौहार मनाया जाता है। दिवाली के बाद से लगातार त्योहारों की शुरुआत हो जाती है। हाल ही देश भर में दिवाली का त्यौहार बड़ी धूम-धाम से मनाया गया। अभी देश में छठ पूजा की धूम मची हुई है (Dev Uthani Ekadashi 2019 Shubh Muhurat)। कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष की ग्यारस को देवउठनी एकादशी मनाई जाती है। इसे प्रबोधिनी एकादशी,   देवोत्थान एकादशी और देव उठनी ग्यारस के नामों से जाना जाता है। देव उठनी ग्यारस (Gyaras 2019) से जगत के पालनहार भगवान विष्णु अपनी योग निद्रा से जाग जाते हैं। ग्यारस से शुभ और मांगलिक कार्यों की शुरुआत हो जाती है। चतुर्मास भी इस दिन समाप्त हो जाता है।

Today Rashifal 4 November 2019 : इस राशि के जातकों को मिलेगी बड़ी खुशी

इस वर्ष देव उठनी ग्यारस (Gyaras 2019) 8 नवंबर को मनाई जाएगी। इस दिन तुलसी विवाह का भी आयोजन किया जाता है। हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार तुलसी जी का विवाह शालिग्राम से कराये जाने की परंपरा है। ऐसी मान्यता है कि जिसके घर कोई कन्या नहीं होती वह तुलसी विवाह में कन्या दान का लाभ प्राप्त कर सकता है। वहीं धर्म शास्त्रों में इस दिन को काफी शुभ माना गया है। यदि इस दिन कुछ उपाय किए जाएं तो व्यक्ति को हर समस्या से निजात मिल सकती है। चलिए जानते हैं कि कौन से उपाय करने से समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है।

श्री गणेश को प्रसन्न करने के आसान उपाय

वैसे देव उठनी ग्यारस के दिन भगवान विष्णु और सभी देवी-देवता योग निद्रा से जागते हैं (Dev Uthani Ekadashi 2019 Shubh Muhurat)। ऐसे में यदि श्री हरी विष्णु पर केसर मिश्रित दूध से अभिषेक किया जाए तो उनकी कृपा प्राप्त होती है। विष्णु जी के प्रसन्न होने से वे मनोवांछित फल देते हैं।

इस दिन सुबह सवेरे उठकर आस-पास किसी नदी में जाकर स्नान करना चाहिए। कहा जाता है ऐसा करने से सभी तरह के पाप धुल जाते हैं और जीवन में सुख-शांति बनी रहती है। अगर आप अपने स्वास्थ्य को हमेशा ठीक रखना चाहते हैं तो स्नान के बाद गायत्री मंत्र का जाप करना चाहिए।

Gopashtami 2019 : तिथि और शुभ मुहूर्त

इस दिन अगर आप श्री हरी विष्णु के मंदिर में जाकर उनके दर्शन कर उनकी विधि-विधान से पूजा करते हैं और उन्हें खीर व मिठाई का भोग लगाते हैं तो श्री हरी विष्णु प्रसन्न हो जाते हैं। ऐसा करने से व्यक्ति के जीवन की आर्थिक परेशानी दूर होती है और उसे धन की कोई कमी नहीं रहती। हालांकि भगवान को भोग लगाने से पहले भोग में तुलसी के पत्ते डालना न भूलें।

वैवाहिक जीवन में आने वाली परेशानियों को दूर करने के लिए इस दिन विष्णु जी की आराधना के साथ ही तुलसी विवाह जरूर करना चाहिए (Gyaras 2019 Wishes)। इससे वैवाहिक जीवन में खुशियां आती हैं और सारी परेशानियां दूर हो जाती हैं।

Prabhat Jain

Share.