website counter widget

बस एक बार जपें यह कनक धारा मंत्र तो बरसने लगेगा धन

0

दुनिया में ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं होगा जो माता लक्ष्मी की कृपा न चाहता हो। माता लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए हर कोई तरह-तरह के उपाय अपनाता है फिर भी लक्ष्मी जी प्रसन्न नहीं होती। कई तरह के उपाय करने के बाद भी माता लक्ष्मी जी की कृपा प्राप्त नहीं होती। माता लक्ष्मी धन की देवी होती है और उनकी कृपा जिस पर हो जाए उसके जीवन में कभी भी धन की कमी नहीं रहती। माता लक्ष्मी जी की कृपा से व्यक्ति का जीवन सुख-शान्ति के साथ व्यतीत होता है। घर में हमेशा सुख-शान्ति और वैभव बना रहता है। लेकिन अब सवाल यह उठता है कि धन की देवी मां लक्ष्मी को प्रसन्न कैसे किया जाए? उनकी कृपा कैसे प्राप्त की जाए?

जब आप कड़ी मेहनत और लगन से काम करें फिर भी आपको उसका फल प्राप्त न हो या आपके जीवन में हमेशा आर्थिक परेशानी बनी रहे तो समझ लीजिए माता लक्ष्मी आपसे रुष्ठ है। ऐसे में माता लक्ष्मी और भगवान विष्णु की उपासना करना बेहद शुभ होता है। जीवन में तरक्की और घर में धन की बरकत के लिए माता लक्ष्मी और भगवान विष्णु की पूजा अर्चना की जानी बेहद जरूरी है।

Today Rashifal 13 November 2019 : इस राशि के जातक आज रहें सावधान

जैसा की हम सभी जानते हैं माता लक्ष्मी कमल के आसान पर विराजित रहती हैं और उन्हें कमल का फूल बेहद पसंद है। इसलिए जब भी माता लक्ष्मी की आराधना करें तो उनके कमल का फूल जरूर अर्पित करना चाहिए।(Kanaka Dhara Mantra) कमल के फूल के साथ अगर कमल गट्टा अर्पित किया जाए तो विशेष फल प्राप्त होता है। वहीं कमल गट्टे से बनी माला से यदि माता लक्ष्मी जी के विशेष मंत्र का जाप किया जाए तो माता लक्ष्मी बेहद जल्द प्रसन्न हो जाती हैं। यह मंत्र बेहद प्रभावशाली मंत्र है। अगर इस मंत्र का जाप पूरे दिल से और सच्ची श्रद्धा से किया जाए तो घर में निश्चित रूप से धन की वर्षा होने लगती है। इस बात का प्रमाण भी शास्त्रों में दिया गया है।

Today Rashifal 14 November 2019 : इस राशि के जातकों को मिलेगी बड़ी खुशी

शास्त्रों में वर्णित है कि यदि कमल गट्टे की माला से कनक धारा मंत्र का जाप किया जाए तो 100 गुना ज्यादा फल प्राप्त होता है। आज हम आपको कनक धारा मंत्र के बारे में बताने जा रहे हैं।(Kanaka Dhara Mantra) अगर शुक्रवार के दिन इस मंत्र का जाप 108 बार किया जाए तो इसका फल 100% मिलता है घर में धन वर्षा होने लगती है।

आइए जानते हैं कुंडली के नौवें भाव के बारे में 

कनक धारा मंत्र

ॐ श्रीं ह्वीं क्लीं श्रीं लक्ष्मीरागच्छागच्छ मम मन्दिरे तिष्ठ तिष्ठ स्वाहा।

यह कनक धारा मंत्र खुद माता लक्ष्मी ने ब्रम्हर्षि वशिष्ठ को बताया था। यह माता लक्ष्मी अतिप्रिय मंत्र है। माता लक्ष्मी ने गुरु वशिष्ठ से कहा था कि यदि कोई भी व्यक्ति कमल गट्टे की माला के साथ इस मंत्र का 108 बार सच्ची श्रदा से जप लेता है तो मैं उसके घर में स्थापित हो जाती हूं। इस मंत्र का जाप करने वाले व्यक्ति के घर हमेशा सुख-शांति, धन-वैभव और संपन्नता रहती है और उसे किसी भी चीज़ की कोई कमी नहीं रहती।

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.