website counter widget

इस शरद पूर्णिमा बन रहा दुर्लभ संयोग, होगी धनवर्षा

0

भारतीय परंपरा में शरद पूर्णिमा का बेहद ही ख़ास महत्व है। कहा जाता है कि शरद पूर्णिमा कर्जों से मुक्ति दिलाने वाली पूर्णिमा होती है। इस बार यह पूर्णिमा 13 अक्टूबर को पड़ रही है। जिस तरह इस बार नवरात्रि के दौरान बहुत से शुभ संयोग बने थे उसी तरह इस बार शरद पूर्णिमा पर भी 30 साल बाद एक बेहद दुर्लभ संयोग बन रहा है। ये शुभ संयोग चंद्रमा और मंगल के आपस में दृष्टि संबंध होने से बन रहा है। इस योग को शास्त्रों में महालक्ष्मी योग भी कहा जाता है। इस शुभ संयोग के बनने की वजह से इस बार की शरद पूर्णिमा का महत्व और भी ज्याद बढ़ गया है।

गौरतलब है कि शरद पूर्णिमा को कोजागरी पूर्णिमा भी कहा जाता है। धार्मिक शास्त्रों की मान्यताओं के अनुसार कहा जाता है कि शरद पूर्णिमा की रात्रि मां महालक्ष्मी धरती पर आती हैं और पृथ्वी पर विचरण करती हैं। इस वर्ष शुभ संयोग बनने की वजह से इस दिन महालक्ष्मी की पूजा करना बेहद अधिक शुभ फलदायी सिद्ध होगा। इस बार की शरद पूर्णिमा पर स्वास्थ्य लाभ प्राप्त होने के साथ ही कर्ज से छुटकारा मिलने के योग बन रहे हैं। इस बार आर्थिक स्थिति में सुधार होने के भी योग बन रहे हैं।

हिन्दू धर्म शास्त्रों में मान्यता है कि शरद पूर्णिमा की रात चांद की चांदनी में अमृत की कण धुले हुए होते हैं। कहा जाता है कि इस रात की चांदनी में टहलने से शारीरिक और मानसिक रूप से कई फायदे प्राप्त होते हैं। हिन्दू परम्परा के अनुसार शरद पूर्णिमा की रात में चांद की रौशनी में खीर रखी जाती है। कहा जाता है कि चांद की चांदनी इस खीर को अमृत समान बना देती है। इस खीर में औषधीय गुण आ जाते हैं और इसका सेवन बेहद फायदेमंद होता है।

इस बार की शरद पूर्णिमा पर मीन राशि में चंद्रमा और कन्या राशि में मंगल रहेगा। ऐसे में दोनों ही ग्रह-नक्षत्र ठीक एक दूसरे के आमने-सामने रहेंगे। इसके अलावा नक्षत्र में भी मंगल रहने वाला है। यह चंद्रमा के स्वामित्व वाला नक्षत्र होता है। गौरतलब है कि 30 वर्ष पहले इसी तरह की दुर्लभ स्थिति निर्मित हुई थी और अब उसके 30 साल बाद ये संयोग बना है। इसके अलावा एक और ख़ास संयोग बनने जा रहा है। दरअसल इस बार चंद्रमा पर बृहस्पति की दृष्टि पड़ने से गजकेसरी संयोग भी निर्मित हो रहा है। शरद पूर्णिमा के दिन कोई भी नया कार्य शुरू करना बेहद शुभ रहेगा।

Prabhat jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.