website counter widget

जानिए क्या है ज्योतिष में प्रथम भाव का अर्थ

0

कालचक्र कुंडली में पहले घर में सूर्य उदय का समय होता है। यह एक नए दिन की शुरुआत और इसी तरह एक नए जीवन की शुरुआत को दर्शाता है (Janam Kundli)। पहला घर कुंडली का सबसे महत्वपूर्ण बिंदु है; यह सिर्फ एक सामान्य घर नहीं है बल्कि एक संदर्भ बिंदु है जहां से अन्य सभी घरों का विश्लेषण किया जाता है।

दिवाली से पहले करें ये उपाए तो दूर होगी हर परेशानी

पहले घर और उसके स्वामी की व्यक्ति की शारीरिक बनावट और संरचना निर्धारित करता है (Janam Kundli)। पहला घर सिर भी दिखाता है और चूंकि सिर में मस्तिष्क होता है, इसलिए पहला घर हमारे मानसिक झुकाव और मानसिक व्यक्तित्व को भी दर्शाता है। यह दिखाता है कि हमारा तार्किक दिमाग कैसे काम करता है।

Dhanteras 2019 : धनतेरस पर क्यों खरीदा जाता है सोना?

पहले घर पर प्रभाव जीवन भर एक व्यक्ति को प्रभावित करता है और इसलिए सही भविष्यवाणियों के लिए इसका सावधानीपूर्वक विश्लेषण आवश्यक है।

सामान्य तौर पर पहले घर में जीवन के प्रति आपका सामान्य दृष्टिकोण दिखता है और यह भी कि दूसरे आपको कैसे देखते हैं। यह आपके सिर, आपकी काया, स्वास्थ्य, संभावित स्वास्थ्य मुद्दों, प्रतिरक्षा शक्ति, बचपन और जीवन की शुरुआत में घर के वातावरण को दर्शाता है।

अंत में एक मजबूत कुंडली की नींव पहले घर और उसके स्वामी की ताकत पर निर्भर करती है और इसलिए इसका सावधानीपूर्वक अध्ययन कुंडली फल की पहली सीढ़ी माना जाता है |

Pushya Nakshatra 2019 : दो दिन का है पुष्य नक्षत्र और शुभ मुहूर्त

साभार –  pictureastrology.com

 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.