website counter widget

आइये आज जानें Scorpio राशि के कुछ विशेष गुण

0

वृश्चिक राशि का प्रतीक एक बिच्छु है। बिच्छु एक रेंगने वाला प्राणी होता है, जिसकी पूँछ में डंक और जहर होता है| बिच्छु सामान्य तौर पर ठहरे हुए पानी में पाया जाता है और अकेले एक जगह पर ही बैठना पसंद करता है | बिच्छु जब तक हमला नहीं करता जब तक कोई उसे आगे जाकर परेशान न करे| उसी तरह वृश्चिक राशि के जातक भी हमेशा आक्रामक नहीं होते पर अगर कोई उन्हें आगे से छेड़ता है तो फिर वह बदला लेने में नहीं चूकते|

श्राद्ध पक्ष में पर्वत के इस पत्थर से आती हैं प्रेतात्माएं

बिच्छु के डंक की तरह वे साम दाम दंड भेद कुछ भी प्रयोग कर के दुश्मन के सफाये में विश्वास रखते हैं| वृश्चिक राशि के स्वामी मंगल ग्रह है| मंगल ऊर्जा और शक्ति के प्रतीक है| उसी तरह वृश्चिक राशि के जातकों में शारीरिक क्षमता भरपूर होती है|

Ganpati Visarjan 2019 : गणपति विसर्जन के नियम व शुभ मुहूर्त

वे कठिन कार्य करने में हिचकिचाते नहीं हैं| मंगल की तरह वे साहसी एवं किसी भी चुनौती के लिए तैयार रहते है| वृश्चिक राशि का एक और विशेष गुण होता है कि उनका व्यक्तित्व बड़ा ही रहस्यमय होता है| उन्हें समझना आसान नहीं होता| वे कोई भी चीज़ बड़े ही गुप्त तरीके से करते हैं| इसी तरह रहस्मयी नावेल और फिल्मे देखना उन्हें पसंद होता है| साथ ही ज्योतिष, फेंग शुई, मंत्र, तंत्र जैसे विषयो में भी इनकी विशेष रूचि होती है|

इनका दोस्त बनाना आसान नहीं होता क्योकि ये आसानी से किसी से खुलकर मिलते नहीं है, लेकिन एक बार ये किसी से दोस्ती कर लें तो पूरी तरह इस रिश्ते को निभाते हैं| मंगल और वृश्चिक राशि का संयोग उन्हें पुलिस, जासूसी और साहसिक कार्यो के लिए उपयुक्त बनाता है|

Shradh 2019 Dates : श्राद्ध का महत्व व महत्वपूर्ण तिथि

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.