X

भाजपा का दामन थामते ही जया पर आरोप

0

743 views

उत्तरप्रदेश की राजनीति में बेहद तेजतर्रार माने जाने वाले नरेश अग्रवाल ने सोमवार को समाजवादी पार्टी को छोड़  भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया। अपना टिकट काटकर जया बच्चन को राज्यसभा भेजे जाने से नरेश अग्रवाल पार्टी से नाराज चल रहे थे। भाजपा में आते ही नरेश अग्रवाल ने प्रेस कांफ्रेंस कर समाजवादी पार्टी पर कई गंभीर आरोप लगाए|

जानकारी के मुताबिक, राज्यसभा का टिकट काटे जाने से नाराज समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता नरेश अग्रवाल को भाजपा के राष्ट्रीय मुख्यालय में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने औपचारिक रूप से सदस्यता ग्रहण कराई।

गौरतलब है कि सपा ने नरेश अग्रवाल के दावे को दरकिनार करते हुए उत्तरप्रदेश से जया बच्चन को राज्यसभा का उम्मीदवार बनाया था। उत्तरप्रदेश में सपा के 47 विधायक हैं और वह केवल एक उम्मीदवार को राज्यसभा में भेजने की स्थिति में है।

दल बदलते रहे हैं अग्रवाल

मूल रूप से हरदोई के रहने वाले नरेश अग्रवाल इससे पहले भी कई बार पार्टी बदल चुके हैं| सबसे पहले अग्रवाल 1980 में कांग्रेस के टिकट पर विधायक बने थे। हरदोई विधानसभा सीट से सात बार विधायक  रहे नरेश अग्रवाल ने कांग्रेस से अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत करने के बाद ‘लोकतांत्रिक कांग्रेस’ नाम से अपनी एक अलग राजनीतिक पार्टी भी बनाई थी। बाद में उन्होंने बसपा का दामन थाम लिया था| इसके बाद वह अपने पूरे कुनबे के साथ सपा में शामिल हो गए थे और अब समाजवादी पार्टी से भी नाराज़ अग्रवाल ने भाजपा की सदस्यता ली है|

Share.
31