इंदौर में भी दो नगर निगम करने की मांग हुई तेज

0

इंदौर: अभी हाल ही में राजधानी भोपाल(Bhopal) को दो भागो में बाँट दिया गया है. इस बटवारे के बाद अब राजधानी में दो नगर निगम हो गए है. भोपाल नगर निगम और कोलार नगर निगम अब भोपाल कि तरह इंदौर नगर निगम (Indore Nagar Nigam) को भी 2 भागों में विभाजित करने की मांग उठने लगी है, कांग्रेस प्रदेश सचिव राकेश यादव(Rakesh yadav) ने सीएम कमलनाथ को एक खत लिखकर विभाजन की मांग की है। राकेश यादव ने पत्र में लिखा है की इंदौर (Indore) के विस्तार को देखते हुए शहर को 2 नगर निगम में बांटने की सख्त जरुरत है, इसके लिए राकेश यादव ने शहर की भौगोलिक स्थिति अनुसार डाटा भी सीएम को खत के साथ भेजा है। फिलहाल इंदौर (Indore News) नगर निगम सीमा में अभी 85 वार्ड है।

गौ तस्करों ने बजरंग दल कार्यकर्ता को मारी गोली

भोपाल नगर निगम (Bhopal Nagar Nigam) को दो हिस्सों में बाटने के प्रस्ताव को मंजूरी मिल चुकी है। इस बंटवारे का भाजपा नेताओं के द्वारा विरोध भी किया गया था। अब इंदौर के दो भागो में बांटने की मांग पर नरोत्तम मिश्रा ने ये आरोप लगाया है कि कांग्रेस केवल बांटने का काम करती है।

सबसे ज्यादा उम्र में नोबेल पुरस्कार जीतने वाले पहले वैज्ञानिक

इंदौर में दो नगर निगम की मांग पर प्रदेश के मंत्री तुलसीराम सिलावट ने भी अपना समर्थन जाहिर किया है। उन्होंने कहा कि इंदौर को दो हिस्सों में बांटकर दो नगर निगम बना देना चाहिए जिससे जिले की सफाई व्यवस्था और निगम के अंतर्गत आने वाले कई काम में आसानी हो जाएगी। वर्तमान में इंदौर (Indore) का विस्तार तेजी से हो रहा है और एक नगर निगम को पूरे शहर में नियंत्रण करने के लिए काफी मशक्कत करना पड़ता है। शहर को दो हिस्सों में बाटने से शहर में 2 महापौर हो जाएंगे जिससे शहर का विकासअच्छे से होगा। वर्तमान में एक महापौर के होने से विकास कि गति कही ना कही धीमी नजर आ रही है।

भारतीय सेना ने तबाह कर दिया पाकिस्तान!

 

-Mradul tripathi

Share.