महिलाओं से ज्यादा होता है तनाव का असर

0

आजकल की भागदौड़ भरी ज़िंदगी में हर कोई तनाव से ग्रसित है| काम के तनाव से हर इंसान प्रभावित होता है, लेकिन महिलाओं के बजाय पुरुषों पर इसका ज्यादा असर देखने को मिलता है

ऑफिस में काम से होने वाले तनाव की वजह से हृदयाघात, हृदय संबंधी समस्या और मधुमेह का खतरा बढ़ जाता है| एक अध्ययन में पाया गया है कि जिन पुरुषों को हृदय संबंधी समस्या होती है, उनके लिए काम से होने वाला तनाव ज्यादा खतरनाक होता है|  हालांकि महिलाओं में इस खतरे का कोई प्रमाण नहीं मिला है| अध्ययनकर्ताओं ने बताया कि पुरुषों में महिलाओं की अपेक्षा 6 गुना ज्यादा खतरा होता है|

लंदन विश्वविद्यालय के अध्ययनकर्ताओं ने यूके, फ्रांस, फिनलैंड और स्वीडन के एक लाख लोगों पर अध्ययन किया, जिनमें से 3,441 लोगों को हृदय संबंधी समस्याएं थीं|  इन लोगों को एक प्रश्नावली दी गई, जिसमें उनकी जीवनशैली और चिकित्सीय आंकड़ों से जुड़े प्रश्न थे| इस अध्ययन में पाया गया कि जिन पुरुषों को ऑफिस में काम की वजह से तनाव था, उनमें 68 प्रतिशत जल्दी मृत्यु की आशंका देखी गई|  हालांकि महिलाओं में ऐसी कोई आशंका नहीं देखी गई| अध्ययनकर्ताओं का कहना है कि काम की वजह से होने वाले तनाव के कारण दिमाग में तनाव उत्पन्न करने वाले कॉर्टिसोल हॉर्मोन की अधिकता हो जाती है|

Share.