मिट्टी के तवे पर बनी रोटियां गुणों से भरपूर

0

आजकल मिट्टी के बर्तनों में खाना बनाना एकदम बंद ही हो गया है| अब मिट्टी के बर्तनों में सिर्फ मटके का ही उपयोग होता है| आधुनिक जीवनशैली में मिट्टी के बर्तनों की जगह स्टील और एल्युमिनियम के बर्तनों ने ले ली है|

हमने पुराने लोगों को कहते सुना होगा कि मिट्टी के बर्तन में खाना बनाने के कई फायदे होते हैं| आयुर्वेद में भी कहा गया है कि खाने को आग पर धीरे-धीरे पकाना चाहिए, लेकिन समय की कमी के कारण हम खाना भी जल्दी में पकाते हैं| आज हम आपको मिट्टी के तवे पर बनी रोटियां खाने के फायदे बता रहे हैं|

कब्ज से राहत

आजकल कब्ज की समस्या हर किसी को हो जाती है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि मिट्टी के बर्तनों में खाना पकाने से कब्ज से राहत मिलती है| जी हां, मिट्टी के तवे पर पकाई गई रोटियां खाने से कब्ज से राहत मिलती है|

गैस की समस्या से छुटकारा

दिनभर काम के कारण एक स्थान पर बैठने से गैस की समस्या हो ही जाती है| इससे मुक्ति पाने के लिए मिट्टी के बर्तनों का उपयोग करना चाहिए| मिट्टी के तवे पर बनी रोटियां खाने से गैस की समस्या से भी छुटकारा मिलता है|

कहा जाता है कि आटा मिट्टी के तत्वों को अवशोषित कर लेता है, जिससे इसकी पौष्टिकता बढ़ जाती है| साथ ही इसमें मौजूद सभी तरह के प्रोटीन शरीर की खतरनाक बीमारियों से रक्षा करता है| सिर्फ मिट्टी के बर्तन में बने खाने में 100 प्रतिशत पोषक तत्व होते हैं, वहीं एल्युमिनियम के बर्तन में पके खाने से 87 प्रतिशत पोषक तत्व खत्म हो जाते हैं|

Share.