website counter widget

डिप्रेशन बढ़ाते हैं जंक फ़ूड

0

आज कल junk food का चलन कुछ ज्यादा ही हो गया है| लोग अपना मूड ठीक करने के लिए अपने फेवरेट फूड में junk food को शामिल कर चुके है | लोग अच्छा और पसंदीदा खाना खाना पसंद करते है जिसमे पिज्जा बर्गर भी शामिल है| लेकिन अगर आपके खाने में भी जंक फूड शामिल है तो यह थोड़ा सा घातक है | इससे पहले भी अपने जंक फूड (Junk Food Diet Raises Depression Risk) के दुष्परिणाम के बारे में सुना ही होगा |

लेकिन जंक फूड जैसे पिज्जा, बर्गर आदि से जुडी एक और घातक परिणाम अब सामने आया है| जंक फूड ( junk food ) आपके डिप्रेशन को और बढ़ा सकते हैं| एक रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ है और रिसर्चर्स का इस बारे में कहना है कि पिज्जा-बर्गर जैसी जीजें डिप्रेशन ( Junk Food Diet Raises Depression Risk) को बढ़ाने का काम कर सकती हैं|

जानते हैं धनिये के चमत्कारिक गुण

कई बार सैचुरेटेड फैट खून के जरिए दिमाग में चला जाता है| अगर यह दिमाग हाइपोथैलमस पर असर डाले तो आपमें डिप्रेशन ( Junk Food Diet Raises Depression Risk) के लक्षण आ सकते हैं| बता दें कि हाइपोथैसमस दिमाग का वह हिस्सा होता है जो भावनाओं पर नियंत्रण रखता है|यूनिवर्सिटी ऑफ ग्लासगो द्वारा किया गया यह शोध जंक फूड ( junk food ) लवर्स को सावधान करता है| खास बात यह है कि डिप्रेशन और मोटापे में भी कनेक्शन को इस शोध में देखा गया है| मोटापे का शिकार लोगों पर ऐंटी डिप्रेसेन्ट का असर आम लोगों की तुलना में कम पाया गया है| ऐसे में यह साफ है कि हाई फैट डायट डिप्रेशन को बढ़ाने का काम करती हैं|

गर्मियों में पिएं यह चाय, लू से मिलेगा छुटकारा

इस रिसर्च के बाद अब उम्मीद है कि डिप्रेशन की दवा बनाने में कुछ नई बातों को भी इंक्लूड किया जायेगा | साथ ही उम्मीद है की रिसर्च के परिणामों के बाद अब जंक फूड (Junk Food Diet Raises Depression Risk) के चाहने वालों की आँखे भी खुलेगी| वैसे जंक फूड ( junk food )  इसके आलावा भी शरीर को और भी कई तरह के नुकसान पहुंचाता है| उम्मीद है शोध लोगों में जंक फूड ( junk food )  के प्रति जागरूकता बढ़ाएगा |

जागरूकता के अभाव में दोगुनी गति से बढ़ रहा है Cancer

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.