कई रोगों का इलाज है जायफल

0

कई समस्याओं में लाभदायक जायफल का इस्तेमाल लगभग हर घर में होता है। पुराने समय में जायफल का इस्तेमाल कई बीमारियों के इलाज में किया जाता था। इसमें एंटी-ऑक्सिडेंट और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं और मजबूत करते हैं। यदि आपको कब्ज की शिकायत रहती है तो आप जायफल का इस्तेमाल (Benefits And Side Effects Of Nutmeg ) कर इससे आसानी से छुटकारा पा सकते हैं।

पाचन संबंधी विकारों में जायफल (Benefits And Side Effects Of Nutmeg ) बेहद कारगर होता है। गैस बनने या पेट फूलने जैसी परेशानियों के इलाज के लिए एक-चौथाई चम्मच अदरक के पाउडर में दो चम्मच जायफल पाउडर मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें। इस मिश्रण का 1/8 चम्मच पाउडर गुनगुने पानी के साथ भोजन करने से कुछ समय पहले लें।

एक चुटकी जायफल (Benefits And Side Effects Of Nutmeg ) को 3-4 छोटी इलायची और सौंठ पाउडर के साथ हर्बल चाय में डालकर पीना बहुत फायदेमंद होता है। यदि दस्त की समस्या हो तो एक चम्मच खसखस, दो बड़े चम्मच चीनी, आधा चम्मच इलायची और जायफल मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें। इस मिश्रण को 1 चम्मच हर दो घंटे में लेने से दस्त में आराम मिलता है। जी मचलना, अपच और मितली की दशा में एक चम्मच शहद के साथ 3-4 बूंदें जायफल का तेल मिलाकर सेवन करने से आराम मिलता है।

सर्दी के मौसम में खांसी-जुकाम होना आम बात है, लेकिन जब यह बढ़ जाए तो काफी समस्या खड़ी हो जाती है। खांसी और जुकाम की समस्या से निजात पाने के लिए एक कप गर्म पानी में 1/4 चम्मच जायफल मिलाकर पीएं या फिर चाय में जायफल डालकर पीने से लाभ मिलता है।

ये खाने से कम्प्यूटर से भी तेज़ चलेगा दिमाग

कई रोगों में कारगर हैं ये घरेलू उपाय

इस आसन से बढ़ाएं आत्मविश्वास

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.