website counter widget

Black Seed Health Benefits : मधुमेह और दिल की बीमारियों का रामबाण इलाज

0

कलौंजी (Black Seeds) लगभग अधिकतर घरों में मौजूद होती है। कलौंजी से खाने का जायका और भी बढ़ जाता है। यह बेहद सुगंधित होती है। कलौंजी सिर्फ स्वाद और जायका बढ़ाने का ही काम नहीं करती, बल्कि यह आपको स्वस्थ रखने में भी काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती (Black Seed Health Benefits) है। कलौंजी में कई लवण और पोषक तत्व विद्यमान होते हैं। कलौंजी में कई तरह के अमीनो एसिड और प्रोटीन तत्व मजूद होते हैं। यह आयरन, सोडियम, कैल्शियम, पोटैशियम और फाइबर से भरपूर होती है।

OMG : बेहद हानिकारक है नींबू-पानी

Black Seed Health Benefits In Hindi :

कलौंजी को सबसे ज्यादा हेल्दी (Black Seed Health Benefits) माना जाता है। अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो कलौंजी से बेहतर कोई उपाए नहीं है। यह वजन कम करने में बेहद कारगर होती है। सिर्फ एक चम्मच कलौंजी आपको हेल्दी बना सकती है। इतना ही नहीं कलौंजी और कलौंजी का तेल टाइप 2 डाइबिटीज की रोकथाम में भी कारगर है। जहां एक तरफ कलौंजी को भारतीय व्यंजनों में इस्तेमाल किया जाता है, वहीं कलौंजी के तेल का इस्तेमाल भी व्यंजनों में किया जाता है। कलौंजी ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करता है। कलौंजी के तेल में एंटिऑक्सीडेंट होते हैं जो टाइप 2 डाइबिटीज की रोकथाम में काफी कारगर होता है।

सौंफ के फायदे जानकार हैरान रह जाओगे

यह बात एक रिसर्च में पता चली है कि, कलौंजी ब्लड शुगर लेवल (Black Seed Health Benefits) को नियमित व नियंत्रित करती है। इस रिसर्च में यह भी पता चला कि, कलौंजी का सेवन खाली पेट ब्लड शुगर लेवल को भी कंट्रोल करता है। इतना ही नहीं कलौंजी कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी नियंत्रित करने में सक्षम होता है। जो लोग डायबिटीज से पीड़ित होते हैं उन्हें दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। क्योंकि डायबिटीज की वजह से हाई डेंसिटी लाइपोप्रोटीन मतलब अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर में गिरावट आने लगती है, जबकि लो डेंसिटी लाइपोप्रोटीन यानी खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ने लगता है। आगे चलकर यही वजह दिल की बीमारियों का कारण बनती है। रिसर्च में इस बात का पता चला है कि कलौंजी कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करती है जिस वजह से दिल की बीमारियां दूर रहती हैं।

तेजी से वजन घटाने का बेहद आसान तरीका

हालांकि कलौंजी का सेवन भी नियमित मात्रा में ही करना चाहिए, क्योंकि अति हर चीज़ की खराब ही होती है। आप एक बार में कलौंजी के 3 या 5 से ज्यादा बीजों का इस्तेमाल न करें। अगर आप ज्यादा कलौंजी का इस्तेमाल करते हैं तो आपको पित्त दोष हो सकता है।

प्रभात

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Loading...
Share.