website counter widget

सर्दियों में ये साधारण उपाय बचाएंगे ‘चिलब्लेन’ से

0

सर्दियां शुरू हो गई हैं और सर्दियों के साथ शुरू हो गई है हाथ और पैर पर लाल निशान या खुजली के साथ सूजन की समस्या। हालांकि सर्दियों में यह आम बात है और मेडिकल साइंस की भाषा में इसे ‘चिलब्लेन’ कहा जाता है। यह समस्या सर्दी के मौसम में अचानक तापमान में बदलाव के कारण होती है। इस समस्या से बच्चे एवं बुजुर्ग जल्दी प्रभावित हो जाते हैं। हालांकि कुछ सामान्य उपाय अपनाकर इस समस्या से बचा जा सकता है। आइए जानते हैं इससे बचने के कुछ साधारण उपाय।

सर्दी के मौसम में चिलब्लेन से बचने के लिए ठंडे पानी से दूर रहें। यदि पानी में काम करना ज़रूरी है तो गर्म पानी का प्रयोग करें। ठंड में गर्म कपड़े पहनें और विशेषकर कान, हाथ और पैर को ऊनी कपड़ों से ढंककर रखें। फिर भी यदि यह समस्या हो तो डॉक्टर से परामर्श ज़रूर लें।

इसके अलावा यदि हाथ-पैर में सूजन आ जाए तो गर्म पानी में सेंधा नमक मिलाकर उस पानी से तकरीबन 15 मिनट तक सिकाई करें। दिन में केवल एक बार गर्म पानी में सेंधा नमक मिलाकर सिकाई करने से सूजन खत्म हो जाती है और त्वचा की सूखेपन की समस्या से भी छुटकारा मिल जाता है।

लाल निशान पड़ने और सूजन की समस्या में एक और उपचार आप अपना सकते हैं। सरसों के तेल में एक मोमबत्ती को डालें और गर्म करें। जब तक मोमबत्ती तेल में पूरी तरह न पिघल जाए, तब तक इसे गर्म करें। फिर तेल को ठंडा कर निशान और सूजन वाली जगह पर इस तेल से हल्के हाथों से मसाज करें। दिन में 2 से 3 बार मालिश करने से आराम मिल जाएगा।

ठंड की वजह से रक्त का संचार प्रभावित हो जाता है, जिस वजह से सूजन व दर्द होने लगता है। ऐसे में जैतून या नारियल के तेल को हल्का गर्म कर प्रभावित जगह पर हल्के हाथों से मालिश करने पर रक्त संचार ठीक हो जाता है। मालिश करने से आराम मिलता है और तापमान सामान्य होता है।

कैंसर और मधुमेह की जानकारी देगा टॉयलेट

बीमारियों की छुट्टी के लिए ठंड में ज़रूर खाएं तिल

सर्दियों में बढ़ जाता है स्ट्रोक का खतरा, ऐसे बचें

Share.