website counter widget
wdt_ID Party1 Result1 Party2 Result2
1
wdt_ID Party1 Result1 Party2 Result2
1
wdt_ID Party1 Party2 Party3 Party4 Party5 Party6
1
2 120 65 3 4 3 000
3
4 000 000 83 32 35 212/543

हमेशा रहती है थकान तो हो सकती है यह गंभीर बीमारी

0

आज की भाग-दौड़ भरी लाइफ में थकान होना स्वाभाविक बात है। लेकिन यदि आपको रोजाना शरीर में अकड़न, दर्द और थकान महसूस होती है, और हमेशा ही आराम करने को दिल करता है तो सावधान हो जाइए। हमेशा थकान महसूस होना सिर्फ आलस का कारण नहीं होता बल्कि यह एक तरह की गंभीर बीमारी का संकेत है। जी हां आपने बिल्कुल ठीक पढ़ा कि यदि आप रोजाना बदन दर्द और बहुत ज्यादा थकान का अनुभव करते हैं तो आपको गंभीर बीमारी हो सकती है। चलिए जानते हैं कि हमेशा थकान बनी रहना किस गंभीर बीमारी की ओर इशारा करता है।

दरअसल यह एक तरह की गंभीर मानसिक बीमारी है जिसमें व्यक्ति को लंबे समय तक थकान महसूस होती है। इस स्थिति से निपटने के लिए व्यक्ति आराम करता है लेकिन इसके बाद भी उसकी थकान में जरा भी कमी नहीं आती। इस तरह की बीमारी होने पर इंसान रोजाना के कार्य भी ठीक तरह से नहीं कर पाता। इस गंभीर बीमारी का नाम ‘क्रोनिक फेटीग सिंड्रोम’ (Chronic Fatigue Syndrome) है। इस बीमारी का इलाज आसान नहीं होता। इसका सबसे बड़ा कारण होता है इसके लक्षण की पहचान ना हो पाना।

अन्य रोगों की तरह ही इसके लक्षण होने की वजह से इसकी पहचान नहीं हो पाती और इस बीमारी की पहचान करने के लिए किसी तरह की जांच भी उपलब्ध न होने की वजह से इसका इलाज मुश्किल होता है। हर व्यक्ति में इस बीमारी के अलग-अलग लक्षण होते हैं। इस बीमारी के अधिकतर लक्षण अन्य रोगों की तरह होते हैं। इस बीमारी में ज्यादातर – जॉइंट पेन, ध्यान केन्द्रित करने में समस्या, निरंतर सिरदर्द, घबराहट, नींद ना आना, अवसाद, तनाव, चिंता और सहनशक्ति में कमी आदि जैसे लक्षण देखने को मिलते है। यह सभी इस बीमारी के प्रमुख लक्षण होते हैं।

इस बीमारी को लेकर कई तरह के शोध भी किए गए हैं लेकिन अभी तक इस बीमारी के सही कारणों का पता नहीं लगाया जा सका है। लेकिन इस बीमारी को लेकर कुछ संभावित कारण जरूर सामने आए हैं। जैसे कि संक्रमण, कम रक्त चाप, पोषण में कमी और रोग प्रतिरोधी क्षमता में कमी आदि इस रोग की वजह बनती हैं। इस बीमारी का कोई विशेष उपचार तो उपलब्ध नहीं है, लेकिन डॉक्टर्स इस बीमारी के कारण उत्पन्न होने वाली समस्याओं को दवाओं के जरिए ठीक कर सकते हैं।

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
Loading...
Share.