website counter widget

सिर दर्द को भूलकर भी न करें नज़रअंदाज़ वरना जा सकती है जान

0

सिर दर्द एक बेहद ही आम समस्या है जो ज्यादातर लोगों को कभी भी हो सकती है। आज कल के तनाव भरे और व्यस्त जीवन में यह बेहद ही आम हो गई है। अधिकतर लोगों को यह समस्या हो जाती है। कई लोग ऑफिस में लगातार कई घंटों तक कंप्यूटर के सामने बैठे रहते हैं जिससे उनके सिर में दर्द होने लगता है। चूंकि यह बेहद आम समस्या है इसलिए इसे लोग नज़रअंदाज कर देते हैं और इसे गंभीरता से नहीं लेते। लेकिन सिर का दर्द कई बार बेहद घातक साबित होता है। दरअसल कई बार हम सिर दर्द पर ज्यादा ध्यान नहीं देते लेकिन यह दर्द जानलेवा तक साबित हो सकता है।

सिर्फ सिर दर्द को नज़रअंदाज कर देना ठीक है लेकिन हम यह नहीं समझ पाते कि असल में जो सिर दर्द हो रहा है वह लगातार बैठे रहने, मानसिक मेहनत, थकान व तनाव या फिर अन्य किसी वजह से हो रहा है या फिर वह माइग्रेन का संकेत है। दरअसल आज के दौर में माइग्रेन की समस्या बच्चों में भी देखने को मिल रही है। आज के दौर में बिगड़ती जीवनशैली और गलत खान-पान इसकी मुख्य वजह हैं। इसके अलावा कम नींद लेना और लगातार कंप्यूटर के सामने बैठे रहने से भी यह समस्या उत्पन्न हो जाती है। चलिए जानते हैं इस घातक बीमारी के लक्षण।

Man suffering from daily headache and touching his forehead with hand. Problem concept. Empty place for a text or object on the gray background.
883739846

अगर किसी को माइग्रेन की समस्या होती है तो उसे इस तरह के लक्षणों का सामना करना पड़ता है। जैसे तेज़ लाईट बर्दाश्त ना होना, तेज़ आवाज़ें सहन ना होना, ज़ोर से बात ना कर पाना, ज्यादा देर तक ना बोल पाना, गर्मी सहन नहीं कर पाना, ज्यादा देर तक जाग नहीं पाना, नींद पूरी ना होने पर सिर दर्द की शुरुआत हो जाना, खाना न खाने पर पर इतना तेज़ सिर दर्द होना कि सहनशीलता से बाहर हो जाना, ये सभी माइग्रेन के लक्षण होते हैं।

इस समस्या या बीमारी की शुरुआत ज्यादा टेंशन लेने की वजह से होती है। अगर इस समस्या को नज़रअंदाज़ किया जाए और इस पर ध्यान नहीं दिया जाए तो यह हार्ट स्ट्रोक का कारण भी बन सकती है। इस समस्या का सीधा संबंध हमारे दिल से होता है। इसलिए इस समस्या के मुख्य कारण को जल्द से जल्द ख़त्म करना चाहिए और इस समस्या को रोका जाना चाहिए। कई बार तनाव की वजह से इंसान को साईलेंट अटेक आ भी आ जाता है जिसका पता नहीं चलता और व्यक्ति की मौत तक हो सकती है। इसलिए इसे रोका जाना बेहद जरूरी है। इसलिए जितना हो सके टेंशन से बचें। सुबह योगासन करें। कार्य के बीच-बीच में ब्रेक लेते रहें। पर्याप्त नींद लें। यदि फिर भी सिर दर्द जैसी समस्या हो तो उसे नज़रअंदाज न करें।

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.