website counter widget

election

त्वचा जलने पर क्या करें क्या नहीं!

0

देशभर में दिवाली पर्व की धूम देखने को मिल रही है| इस दिन हम लक्ष्मीजी की पूजा करते हैं, घर को सजाते हैं, दीपक से घर को रोशन करते हैं| वहीं इस दौरान बच्चे मिठाई खाकर और पटाखे जलाकर दिवाली के उत्सव का आनंद लेते हैं, लेकिन कई बार बच्चे पटाखों की वजह से जल जाते हैं, जिस वजह से हम अचानक घबरा जाते हैं और आनन-फानन में कुछ गलती कर बैठते हैं| यदि दिवाली के दौरान पटाखे से आपका बच्चा या कोई अन्य सदस्य जल जाता है तो आप घबराएं नहीं, बस इन तरीकों को ध्यान से अपनाएं|

जले हुए स्थान को सामान्य ठंडे पानी के नल की धारा के नीचे रख दें या फिर ठंडी भीगी साफ पट्टी जली हुई जगह पर रख दें| इससे दर्द और जलन में आराम मिलेगा| यदि कुछ भी न हो तो एकदम सामान्य जले पर गीला गुंथा आटा या आलू की ताजा कटी कतरन भी रखी जा सकती है| जब घाव ठीक होने लगे तो नारियल का तेल भी लगाया जा सकता है|

जलने के कारण यदि त्वचा पर छाले पड़ जाते हैं तो उन्हें फोड़ने की कोशिश न करें| पानी से भरे यह छाले इंफेक्शन से सुरक्षा का काम करते हैं| यदि छाला फूट भी जाता है तो उस जगह को पानी से साफ कर दें| डॉक्टर की सलाह से कोई एंटीबायोटिक ऑइंटमेंट भी लगाया जा सकता है, लेकिन यदि ऑइंटमेंट लगाने के बाद कोई रैश उभरता है तो ऑइंटमेंट का उपयोग तुरंत बंद कर दें|

एकदम साधारण घाव में जब जले का घाव बिल्कुल ठंडा हो जाए तो उस पर एलोवेरा या मॉइश्चराइजर वाला लोशन लगाया जा सकता है| इससे त्वचा रूखी होने से बचेगी और राहत मिलेगी|

यह न करें

त्वचा जलने पर हम अक्सर घाव पर तुरंत बर्फ रगड़ने लगते हैं, जो कि गलत है| ऐसा करना आपके शरीर के लिए नुकसानदायक हो सकता है| इसी के साथ घाव पर घी या बटर लगाने से बचें| यह इन्फेक्शन को आमंत्रण दे सकता है|

Share.