website counter widget

*टीएमसी की रैली में शत्रुघ्न सिन्हा शामिल* पार्टी लेंगी संज्ञान, होगी कड़ी कार्रवाई*

मुर्गी की गंध इस जानलेवा बीमारी के लिए होती है वरदान

0

मुर्गी की गंध वैसे तो बहुत बेकार होती है, लेकिन इसके फायदों के बारे में जानकर आप भी चौंक जाएंगे| यह गंध आपको एक जानलेवा बीमारी से बचा सकती है| जी हां, मुर्गियों के पास से आने वाली दुर्गंध से आप एक बीमारी से राहत पा सकते हैं| इस बारे में इथियोपिया और स्वीडन के वैज्ञानिकों द्वारा शोध भी किया जा चुका है| दरअसल, इस गंध से आप मच्छर से होने वाली बीमारी से निजात पा सकते हैं|

मलेरिया के लिए वरदान है यह गंध

मुर्गियों से आने वाली गंध मलेरिया के लिए वरदान साबित होती है| इस बारे में किए गए शोध के बाद सामने आया है की मुर्गियों की गंध से मलेरिया फैलाने वाले मच्छर चिकन और दूसरे पक्षियों से दूर भागते हैं| वैज्ञानिकों ने शोध के समय एक व्यक्ति को मुर्गी के पिंजरे के पास रखा| उस व्यक्ति को मलेरिया नहीं हुआ, लेकिन उस शहर में रह रहे कई लोग मलेरिया से पीड़ित हो गए| जब जांच की गई तो पाया कि मुर्गियों के पास से आने वाली गंध के कारण मच्छर आसपास नहीं भटकते हैं और इससे व्यक्ति बीमारी कि चपेट में नहीं आता है|  गौरतलब है कि अफ़्रीका में पिछले साल मलेरिया से चार लाख लोगों की मौत हुई|

‘मलेरिया जरनल’ में शोध के बारे में बताया गया, जिसमें लिखा था कि वैज्ञानिक इस परिणाम पर पहुंच चुके हैं कि मच्छर महक सूंघकर अपने शिकार तक पहुंचते हैं, लेकिन मुर्गियों की गंध के कारण उनके आसपास भी नहीं फटकते हैं| स्वीडिश यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर साइन्सेज के शोधकर्ता भी इस अध्ययन में शामिल थे| इस प्रयोग में मुर्गी के पंखों से निकाले गए रसायनों और जीवित मुर्गियों का इस्तेमाल किया गया था| शोधकर्ताओं ने पाया कि मुर्गी और इन रसायनों से मच्छरों की संख्या में काफी कमी आई थी|

अडीस अबाबा यूनिवर्सिटी के हाब्ते तेकी, जो इस शोध में शामिल हुए थे, उनका कहना है कि मुर्गी की महक से कुछ रसायन निकालकर उन्हें मच्छर दूर रखने वाली क्रीम में इस्तेमाल किया जा सकता है|

Share.