मक्का ब्लास्ट- जावेद अख्तर ने जांच पर कसा तंज

0

मक्का मस्जिद बम ब्लास्ट मामले में सभी आरोपियों को बरी करने के बाद मशहूर गीतकार जावेद अख्तर ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) पर तंज कसा है। इस मामले में उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि इस विस्फोट मामले में शानदार सफलता के लिए जांच एजेंसी को बधाई। अब जांच एजेंसी के पास दुनियाभर में होने वाले अंतरजातीय विवाह की जांच करने के लिए पर्याप्त वक्त होगा।

बीजेपी ने भी कसा तंज

जावेद अख्तर के इस ट्वीट के बाद भाजपा ने तंज कसने में देर नहीं की। पार्टी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि काश, आप कांग्रेस द्वारा हिंदू आतंक जैसे शब्दों का प्रयोग करने पर भी उनकी आलोचना करने का साहस और ईमानदारी रखते। ऐसा लगता है कि फिल्मों में आपने जैसी फिक्शनल स्क्रिप्ट लिखी है, उसी से राहुल गांधी प्रेरणा ले रहे हैं। कथित तौर पर आपके ही आइडिया ‘मौत की सौदागर’ की तरह ही हिंदू टेरर भी आपके ही दिमाग की उपज है।

कब हुआ था मक्का मस्जिद बम ब्लास्ट

मक्का मस्जिद बम ब्लास्ट 18 मई 2007 को हैदराबाद में हुआ था। इस विस्फोट में 9 लोगों की मौत हो गई थी और 50 से अधिक लोग घायल हुए थे। इस मामले में 10 लोगों को आरोपी बनाया गया था। उनमें से केवल पांच लोगों देवेंद्र गुप्ता, लोकेश शर्मा, स्वामी असीमानंद, भरत मोहनलाल उर्फ भारत भाई और राजेंद्र चौधरी को गिरफ्तार कर मुकदमा चलाया गया। मामले के दो अन्य आरोपी संदीप वी डांगे और रामचंद्र कलसांगरा अब तक फरार हैं और एक अन्य आरोपी सुनील जोशी की मौत हो चुकी है।

Share.