Video: सावन के महीने में छाया भोजपुरी गीत

1

भोजपुरी गाने आजकल देश-विदेशों में काफी पसंद किए जा रहे हैं| कई गायकों ने भोजपुरी गाने गाकर अपनी एक अलग पहचान बना ली है| वहीं सावन के दिनों में एक पुराना भोजपुरी गाना काफी पसंद किया जा रहा है| कल्पना पटवारी का पुराना गाना ‘ ऐ गणेश के पापा ‘ सावन के महीने में फिर से लोगों की जुबां पर चढ़ गया है| कल्पना पटवारी का सॉन्ग ‘ ऐ गणेश के पापा ‘ वर्ष 2003 में रिलीज़ किया गया था| इस भोजपुरी सॉन्ग को टी-सीरीज़ ने रिलीज़ किया था|

टी-सीरीज़ के यूट्यूब चैनल पर इस ‘ ऐ गणेश के पापा ‘ गाने को अब तक 12 लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका है| कल्पना पटवारी कई सारे भोजपुरी गाने गा चुकी हैं| उनके गानों को काफी पसंद किया जाता है| असम की रहने वाली कल्पना पटवारी ने उस्ताद गुलाम मुस्तफा से संगीत की शिक्षा ली है|

भोजपुरी संगीत के अधिकतर वीडियो में अश्लीलता दिखाई जाती है, लेकिन कल्पना ने ‘ ऐ गणेश के पापा ‘ वीडियो में रत्तीभर भी अश्लीलता नहीं रहती है| इस वजह से उन्होंने भोजपुरी संगीत में अपनी अलग पहचान बना ली है| कल्पना को ‘भोजपुरी क्वीन’ भी कहा जाता है| वे जब 4 वर्ष की थीं तभी उन्होंने परफॉर्म करना शुरू कर दिया था|

कल्पना का जन्म असम के बारपेटा में हुआ था और वे इंग्लिश लिटरेचर में ग्रेजुएट हैं| 39 वर्षीय कल्पना ने लखनऊ से संगीत की शिक्षा ली है| कल्पना पटवारी को पूर्वी, कजरी, सोहर, विवाह गीत, चैत और नौटंकी गायकी में महारथ हासिल है|

गायकी के बाद कल्पना पटवारी ने भाजपा की सदस्यता भी ग्रहण कर ली| पटना में आयोजित भाजपा के एक समारोह में राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी सहित कई नेताओं की मौजूदगी में कल्पना ने भाजपा की सदस्यता ली थी| भाजपा से जुड़ने के बाद कल्पना पटवारी ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व से प्रभावित होकर उन्होंने भाजपा से जुड़ने का फैसला किया|

कल्पना का वायरल गाना ‘ ऐ गणेश के पापा ‘ यहां देखें

सावन विशेष : क्यों आज तक कोई नहीं चढ़ पाया ‘कैलाश पर्वत’ ?

सावन सोमवार 2018: पहले सोमवार को महाकाल की सवारी

Share.