अपनी किताब में ऋषि कपूर ने खोले कई राज़

1

बॉलीवुड के मंझे हुए कलाकारों में से एक ऋषि कपूर आज अपना 66वां जन्मदिन मना रहे हैं| 66 की उम्र में भी ऋषि कपूर का अभिनय दमदार है| हाल ही में उनकी फिल्म ‘मुल्क’ में उनके अभिनय की खूब चर्चा हुई| वहीं अमिताभ बच्चान के साथ आई फिल्म ‘102 नॉट आउट’ भी बॉक्स ऑफिस पर जबरदस्त हिट रही| ट्विटर पर अपने ट्वीट और बयानों की वजह से वे कई बार विवादों में आ चुके हैं| राजकपूर के बेटे ऋषि कपूर ने फिल्म ‘बॉबी’ से अपना डेब्यू किया था| इस फिल्म के लिए उन्हें बेस्ट एक्टर अवार्ड भी दिया गया था|

ऋषि कपूर ने खरीदा था अवार्ड

ऋषि कपूर ने हीरो के तौर पर फिल्म ‘बॉबी’ से अपने करियर की शुरुआत की, इससे पहले वे फिल्म ‘मेरा नाम जोकर’ में बाल कलाकार के रूप में नजर आये थे| फिल्म ‘बॉबी’ के लिए उन्हें बेस्ट एक्टर का अवार्ड दिया गया था| अवार्ड जीतने के बाद यह सवाल उठा कि उन्होंने यह अवार्ड खरीदा है| इन सवालों का जवाब ऋषि कपूर ने अपनी किताब में दिया|

उन्होंने अपनी किताब में लिखा, “हां…मैंने बेस्ट एक्टर का अवार्ड खरीदा है और इसीलिए अमिताभ बच्चन नाराज़ हैं|” ऋषि ने बताया कि उन्होंने ‘बॉबी’ फ़िल्म के लिए बेस्ट एक्टर का अवार्ड खरीदा था| वह भी 30 हज़ार रूपए में| इतना ही नहीं, ऋषि कपूर बताते हैं कि अमिताभ बच्चन इसलिए उनसे काफी समय तक नाराज़ थे क्योंकि उन्हें लगा वे ‘ज़ंजीर’ के लिए यह जीतेंगे|

‘दाऊद इब्राहिम के साथ पी है चाय’

ऋषि कपूर ने अपनी किताब में दाऊद इब्राहिम से उनकी मुलाकात के बारे में भी लिखा, “शोहरत ने मुझे अच्छे लोगों के साथ ही संदिग्ध लोगों से भी मिलवाया| इनमें से एक था दाऊद इब्राहिम| यह वर्ष 1988 की बात है| जाहिर है, यह 1993 के मुंबई ब्लास्ट से पहले की घटना थी और उस वक्त मैं दाऊद को भगोड़ा नहीं समझता था| तब तक वह महाराष्ट्र के लोगों का दुश्मन भी नहीं था| दाऊद ने मेरा स्वागत किया और कहा, किसी भी चीज की जरूरत हो तो बस मुझे बता दें|  उसने मुझे अपने घर भी बुलाया था|”

Share.