सुरमई अंखियों में नन्हा मुन्ना इक सपना दे जा रे…

0

सुरमई अँखियों में नन्हा मुन्ना इक सपना दे जा रे…, ऐ ज़िंदगी गले लगा ले, चीनी कम है…, चीनी कम है…| ये गाने सुनकर रूह को जिस सुकून का अनुभव होता है, उसे शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता है| इन गानों का रूहानी और दिलकश संगीत दिया है दक्षिण भारत के जानेमाने संगीतकार इलैयाराजा ने | इलैयाराजा को 2010 में पद्म भूषण सम्मान से नवाजा गया था| ऑस्कर अवॉर्ड विजेता संगीतकार एआर रहमान इलैयाराजा (Ilaiyaraaja Biography) को अपना गुरु मानते हैं| आज इलैयाराजा का जन्मदिन है| आइये जानते हैं इनके जीवन के अनछुए पहलुओं को|

Saaho Teaser Alert : इस दिन आ रहा है साहो

इलैयाराजा (Ilaiyaraaja Biography) ने पश्चिमी संगीत के साथ तमिल के लोकगीतों को सम्मिलित करके, दक्षिण भारतीय संगीत को एक नया रूप दिया है। इलैयाराजा का जन्म 2 June 1943 को तमिलनाडु में थेनी जिले के पन्नीपुरम में रामास्वामी और चिन्नाथायाम्मल के यहां हुआ था। इलैयाराजा की शादी जीवा के साथ हुई थी और उनके दो पुत्र कार्तिक राजा (संगीतकार) और युवान शंकर राजा (संगीतकार) हैं और उनकी बेटी भवतारिनी (संगीतकार और गायिका) हैं।

वे कई हिंदी फिल्मों में भी संगीत दे चुके हैं| इनमें सदमा, हे राम, महादेव, चीनी कम, पा, अंजलि, छोटा चेतन, की एंड का, मुंबई एक्सप्रेस आदि प्रमुख फ़िल्में हैं|

Article 15 Trailer : बड़ा ही धांसू है फिल्म आर्टिकल 15 का ट्रेलर

इलैयाराजा दक्षिण भारत में संगीत के महागुरु माने जाते हैं| दक्षिण भारत की 1000 से ज्यादा फिल्मों में इलैया राजा ने संगीत दिया है| उन्होंने साढ़े छह हजार से ज्यादा गाने कंपोज़ किए हैं| दक्षिण भारतीय संगीत में पाश्चात्य संगीत लाने का श्रेय भी इलैयाराजा को ही जाता है|

इलैयाराजा (Ilaiyaraaja Biography) ने विभिन्न प्रसिद्ध शिक्षकों के मार्गदर्शन में कर्नाटक संगीत और पश्चिमी संगीत में औपचारिक शिक्षा प्राप्त की। इलैयाराजा ने लंदन के आयोजित ट्रिनिटी कॉलेज ऑफ म्यूजिक द्वारा शास्त्रीय गिटार (उच्चतर स्थानीय) में स्वर्ण पदक जीता था।

वर्ष 1976 से इलैयाराजा ने 5000 से अधिक गानों के लिए और 840 से अधिक भारतीय फिल्मों की पृष्ठभूमि के लिए कई भाषाओं में संगीत दिया है। इलैयाराजा को लंदन के रॉयल फिलहारमोनिक ऑर्केस्ट्रा (आरपीओ) के साथ सिम्फनी (एक प्रकार की संगीत रचना) की रचना का सम्मान प्राप्त हुआ है और यह सम्मान प्राप्त करने वाले वह पहले एशियाई हैं।

इलैयाराजा ने बुडापेस्ट सिम्फनी ऑर्केस्ट्रा से “थिरुवसागम- एक सिंफोनिक ओरटोरियो” एल्बम बनाया। इस एल्बम में पूर्व और पश्चिम का संयोजन है और इसमें भारत और हंगरी के 200 से अधिक संगीतकारों को शामिल किया गया है। विंड केवल एक प्रायोगिक एल्बम नहीं है, इसमें इलैयाराजा ने कर्नाटक और बैरक (काल्पनिक) संगीत की विभिन्न शैलियों को दर्शाया है।

Salman Khan के साथ Bigg Boss 13 में फीमेल होस्ट भी होगी !

इलैयाराजा को कई पुरस्कार प्राप्त हुए, जिनमें से कुछ के नाम प्रस्तुत है|

सागर संगम (वर्ष 1984), सिंधु भैरवी (वर्ष1986) और रुद्रवीणा (वर्ष1989) फिल्मों में सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशन के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिला था।

कलईमानी पुरस्कार से सम्मानित (तमिलनाडु राज्य द्वारा कला के क्षेत्र में विशेषज्ञता के लिए सम्मानित किए गए थे)

आंध्रप्रदेश राज्य में संगीत में योगदान के लिए उत्कृष्टता पुरस्कार से सम्मानित हुए।

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम.करुणानिधि द्वारा वर्ष 1988 में इसाइनानी शीर्षक (संगीत के क्षेत्र में बुद्धिमत्ता के लिए) प्रदान किया था।

अन्नामलाई विश्वविद्यालय तमिलनाडु (मार्च,1994 में) और मदुरै कामराज विश्वविद्यालय तमिलनाडु (वर्ष 1996 में) द्वारा डॉक्टर ऑफ लेटर्स की उपाधि से सम्मानित थे।

Share.