पुलवामा में जवानों की शहादत का उड़ाया मज़ाक

0

हाल ही में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा आतंकी हमले को लेकर कांग्रेस की पूर्व सांसद बेगम नूर बानो ने विवादित बयान (Noor Bano Controversial Statement On Pulwama Terror Attack) दिया है। उन्होंने कहा, “आतंकी हमले के लिए सुरक्षा बल खुद जिम्मेदार हैं। इसके पूर्व नवजोत सिंह सिद्धू के बयान को लेकर भी काफी बवाल हुआ, जिसका खामियाजा उन्हें कपिल शर्मा शो से बाहर होकर चुकाना पड़ा था| इसी प्रकार अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र द्वारा ट्विटर पर पुलवामा में हुए आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) के समर्थन में ‘हाउज़ द जैश’ लिखकर ट्वीट किया गया था, जिसका काफी विरोध हुआ था| अब जवानों की शहादत को लेकर एक और बेहूदा बयान सामने आया है|

दरअसल, सोशल मीडिया पर ट्विटर आंटी के नाम से फेमस मल्लिका दुआ ने इस बार कुछ ऐसा कहा, जो उनके फैंस को ज़रा भी अच्छा नहीं लगा। मल्लिका दुआ ने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें उन्होंने पुलवामा में शहीद जवानों की तुलना भूख और डिप्रेशन में आकर मरने वाले लोगों से कर दी है।

वीडियो में मल्लिका दुआ कह रही हैं,  ”मेरा पॉइंट यह है कि हर दिन लोग भुखमरी, बेरोज़गारी, डिप्रेशन और भी कई कारणों से मर रहे हैं। देश में ही नहीं, पूरी दुनिया में ऐसा होता है। तब क्या हम जीना छोड़ देते हैं। क्या वे जिंदगियां कम इम्पोर्टेन्ट हैं?  ये क्या लॉजिक है?  यह क्या बकवास चल रही है कि पूरा देश रो रहा है और तुम हंस रही हो? आप क्या सारे साल एकदम आदर्शवादी रहते हो? फिर तो सारे साल हमें शोक मनाना चाहिए न? मेरा मतलब है कि क्या हो रहा है ये? हमारे पॉलिटिशियन नॉर्मली जी रहे हैं? तो फिर लोग यह लेक्चरबाजी क्यों कर रहे हैं? सोशल मीडिया पर एक-दूसरे की टांग खींचना बंद कीजिए। यह बकवास है।”

मल्लिका ने आगे कहा, “हर दिन शोक मनाने की कोई न कोई वजह होती है, लेकिन जिंदगी चलती रहती है। इसका यह मतलब नहीं है कि मैं जवानों और देश का सम्मान नहीं करती। यह किसी को दूसरों की तुलना में ज्यादा भारतीय नहीं बना देगा। सोशल मीडिया की यह कैसी देशभक्ति है, मुझे समझ नहीं आती। जो लोग नौटंकी करते हैं, वे महान देशभक्त बन जाते हैं। जबकि वे एक नंबर के करप्ट लोग हैं। टैक्स चोरी करेंगे, कहीं से किसी का हक छीन लेंगे, कुछ भी करेंगे, लेकिन इसलिए सब सही है, क्योंकि वे आपके सामने देशभक्त होने का नाटक करते हैं। हम जैसे ईमानदारी लोग जब ऑथेंटिकली अपनी लाइफ के साथ सोशल मीडिया पर जाते हैं तो लोग कहने लगते हैं देश रो रहा है और तुम हंस रही हो? मेरी न चप्पल बोलेगी तुम्हारे मुंह पर।”

मल्लिका ने आगे कहा, “जो लोग कहते हैं कि हम जंग छेड़ेंगे, उनकी औकात नहीं कि वे कॉल करके एक पिज्जा मंगा सकें? बड़े आए लल्लू के पट्ठे। आप हर मुस्लिम को पाकिस्तानी कैसे कह सकते हो? हर मुसलमान को यह कहना बंद करो कि वह पाकिस्तान चला जाए। अगर ऐसा है तो मुस्लिम तो फिर दुनिया के हर कौने में मौजूद हैं। मैंने तो कभी नहीं सुना कि किसी मुसलमान को कहा गया हो कि ट्यूनीशिया जाओ।”

मल्लिका के इस बयान की सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना हो रही हैं।

-अंकुर उपाध्याय

इंदौर दौरे पर संघ प्रमुख

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.