website counter widget

मशहूर संगीतकार खय्याम के निधन से फिल्म इंडस्ट्री में शोक

0

भारतीय फिल्म जगत के मशहूर संगीतकार खय्याम (Mohammed Zahur Khayyam) का मुंबई के एक अस्पताल में निधन हो गया। बताया जा रहा है कि कार्डिएक अरेस्ट की वजह से उनका निधन हुआ है। खय्याम (Mohammed Zahur Khayyam) को कुछ दिन पहले ही तबियत बिगड़ने पर अस्पताल में दाखिल किया गया था। इसके बाद उनकी तबियत ज्यादा बिगड़ जाने पर 16 अगस्त को उन्हें ICU में रखा गया था। मीडिया में उनकी हालत नाजुक होने की रिपोर्ट आई थी। इसके बाद सोमवार 19 अगस्त को 93 वर्ष की उम्र में उनका अस्पताल में निधन हो गया।

Upcoming Web Series :  अक्षय से लेकर शाहरुख़, अब बनेंगे वेब सीरीज के किंग

खय्याम का पूरा नाम मोहम्मद ज़हुर खय्याम (Mohammed Zahur Khayyam) है। उन्होंने कई शानदार और हिट फिल्मों के लिए संगीत कम्पोज किया है। उन्होंने ‘कभी-कभी’ और ‘उमराव जान’ जैसी बेहद ही शानदार फिल्मों के संगीत को कम्पोज किया था। इन फिल्मों के गाने आज भी लोगों के ज़हन पर छाए हुए हैं। उन्होंने कई सदाबहार नग्मों में अपना शानदार म्यूजिक दिया है। मोहम्मद ज़हुर खय्याम (Mohammed Zahur Khayyam) ने अपने सफर की शुरआत 17 साल की उम्र से उत्तर प्रदेश के लुधियाना से की थी। ब्लॉकबस्टर मूवी ‘उमराव जान’ से उनका करियर शुरू हुआ था। इस ब्लॉकबस्टर मूवी ने उन्हें बुलंदी के शिखर पर पहुंचा दिया। आज भी इस फिल्म के गाने लोगों के ज़हन में बसे हुए हैं।

‘ड्रीम गर्ल’ में आयुष्मान की आवाज़ का खुलासा

इस फिल्म के बेहतरीन संगीत के लिए खय्याम साहब को नेशनल अवार्ड और फिल्मफेयर अवॉर्ड के साथ ही कई अन्य पुरस्कारों से सम्मानित किया गया था। इतना ही नहीं उनके कई नॉन-फिल्मी गाने भी दर्शकों को बेहद पसंद हैं। ‘पांव पड़ूं तोरे श्याम’, ‘बृज में लौट चलो’ और ‘गजब किया तेरे वादे पर ऐतबार किया’ जैसे नॉन-फिल्मी गाने आज भी सदाबहार हैं। उनका संगीत आज भी करोड़ों दिलों में गूंजता है। संगीत की दुनिया का एक सितारा अब अनंत में विलीन हो चुका है। उनके निधन से भारतीय सिनेमा में मातम छा गया है।

गायतोंडे और गुरूजी का शारीरिक संबंध, दर्शक हैरान

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.