website counter widget

पत्नी को छोड़ राज बब्बर ने स्मिता पाटिल से रचाई थी दूसरी शादी

0

ना बेइंतेहा खूबसूरती ना दिलकश अंदाज़ ना बेबाक अदाए फिर भी हिंदी सिनेमा के चाहने वालों के दिलों पर राज किया वे कोई और नहीं बल्कि स्मिता पाटिल जी है (Happy Birthday Smita Patil)| स्मिता जी ने भारतीय सिनेमा को बहुत कम समय दिया, लेकिन जितना भी दिया बहुत ख़ास दिया| अपनी सौम्य मुस्कान और आंखों के गहरे धुंधलके के बीच दमकता एक चेहरा  और यही चेहरा फिल्मों के बड़े से परदे पर नज़र आया तो हर किसी ने उसे पड़ोस की सांवली सी लड़की के रूप में सराहा| आज स्मिता पाटिल जी का जन्मदिन है|

Bala vs Ujda Chaman: आपस में भिड़े निर्माता…

बीते दौर की बेहतरीन अभिनेत्री में शुमार स्मिता पाटिल जी (Happy Birthday Smita Patil) कई मायनों में बॉलीवुड का एक बेहद प्रोग्रेसिव चेहरा रहीं| उन्होंने 70 और 80 के दशक की ऑफबीट फिल्मों में अपनी अदाकारी का लोहा मनवाया| उन्होंने अपना करियर फिल्मों से शुरू नहीं किया था, इससे पहले वह बॉम्बे दूरदर्शन में मराठी समाचार पढ़ती थीं और उसके बाद उन्होंने फिल्मों में एंट्री मारी| उन्होंने फिल्मी करियर की शुरुआत अरुण खोपकर की डिप्लोमा फिल्म से की, लेकिन मुख्यधारा के सिनेमा में स्मिता ने ‘चरणदास चोर’ से अपनी मौजूदगी दर्ज की|

उसके बाद उन्हें श्याम बेनेगल की फिल्म ‘निशांत’ में काम करने का अवसर मिला और 1977 में उनकी कई फिल्में रिलीज हुईं| उन्होंने दुग्ध क्रांति पर बनी फिल्म ‘मंथन’, ‘भूमिका’, ‘चक्र’ में उन्होंने जो काम किया| उससे उन्हें फिल्मी दुनिया में अलग पहचान मिली और दो बार नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित भी किया गया| स्मिता पर्दे पर अपने गंभीर अभिनय के लिए जानी गईं और उन्होंने फिल्मी पर्दे पर सहज और गंभीर किरदार निभाया|

सामाजिक मुद्दों से जुड़ी फिल्मों के बाद उन्होंने कई व्यावसायिक फिल्मों में भी काम किया| उन्होंने सुबह, बाजार, भीगीं पलकें,   मंडी जैसी फिल्में भी की| इसके साथ ही उन्होंने दर्द का रिश्ता, कसम पैदा करने वाले की, आखिर क्यों, गुलामी, अमृत, नजराना जैसी व्यावसायिक फ़िल्में की|

The Bhoot Song : भूत राजा बहार आजा…नवाज़ुद्दीन निकालेंगे अक्षय का भूत

उन्होंने अमिताभ बच्चन के साथ दो फिल्मों में काम किया| जैसे दोनों का वह साथ में गाना ‘आज रपट जाएं तो हमे न उठाइयो’ इस सॉन्ग में दोनों की केमिस्ट्री को काफी सराहा गया था| उनके कुछ गाने ऐसे हैं जो आज भी लोगों की ज़ुबान पर हैं| जैसे फिल्म आखिर क्यों का गाना दुश्मन न करे दोस्त ने वह काम किया है| अमिताभ के साथ उनका वह गाना जाने कैसे कब कहाँ इक़रार हो गया| ऐसे कई गाने स्मिता पाटिल ने बॉलीवुड इंडस्ट्री को दिए, जो याद किये जाते हैं|

स्मिता जितनी अपनी फिल्मों के लिए मशहूर थीं| उतनी ही वह अभिनेता राज बब्बर के साथ अपनी प्रेम कहानी को लेकर भी चर्चा में रही थीं| 80 के दशक में राज बब्बर एक लोकप्रिय चेहरा थे| उस समय राज बब्बर स्मिता पाटिल के प्यार में दीवाने थे| राज बब्बर इतने दीवाने हो गए थे कि उन्होंने स्मिता के लिए अपनी पहली पत्नी नादिरा को छोड़ने तक का फैसला कर लिया था|

नादिरा के बाद राज बब्बर को दूसरी बार प्यार हुआ| कहा जाता है कि फिल्म ‘भीगी पलकें’ के दौरान राज बब्बर और स्मिता पाटिल के बीच प्यार पनप गया था| 80 के दशक में ही यह दोनों लिव-इन-रिलेशनशिप में रहने लगे थे| इसके साथ ही राज ने नादिरा को छोड़ स्मिता से शादी तक रचा ली थी| राज बब्बर के तीन बच्चे हैं- जूही, आर्य और प्रतीक बब्बर| जूही और आर्य नादिरा से है तो वहीं प्रतीक स्मिता और राज के बेटे हैं| स्मिता पाटिल जी एक ऐसी अभिनेत्री हैं जिन्होंने बॉलीवुड इंडस्ट्री को काफी कम फ़िल्में दी, लेकिन जितनी भी दी यादगार रहीं|

अक्षय का झूठ आया सामने, रितेश ने खोली पोल…

Vagisha Panday

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.