X

सीलिंग के खिलाफ व्यापारियों का प्रदर्शन

0

84 views

दिल्ली में कन्फ़ेडरेशन ऑफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के आव्हान पर 7 लाख व्यापारिक प्रतिष्ठान और 2500 बाजार आज हड़ताल पर थे| इस कारण पूरी दिल्ली में व्यापार बंद रहा| व्यापारियों ने 28 मार्च को रामलीला मैदान में सीलिंग के खिलाफ महारैली की भी घोषणा की|

दिल्ली में हर जगह व्यापारियों ने विरोध मार्च निकाले| उन्होंने सीलिंग पर तुरंत रोक लगाने और सील की गई दुकानों को तुरंत खुलवाने की मांग की| कहा जा रहा है कि इस कारण 1800  करोड़ रुपए का कारोबार प्रभावित हुआ| इससे सरकार को  150 करोड़ रुपए के राजस्व का नुकसान हुआ| वहीं 20 लाख से अधिक व्यक्तियों पर भी इस हड़ताल का असर हुआ|

दिल्ली के करोल बाग़ में हुई पंचायत में पारित एक प्रस्ताव में व्यापारियों ने मांग की  है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल 16 मार्च से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र के पहले दिन ही सीलिंग पर रोक का बिल पारित करें | इसके बाद उसे सरकार की मंजूरी के लिए तुरंत भेजें |

वहीं, दूसरी ओर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सर्वदलीय बैठक की| हालांकि, इस बैठक में भाजपा के नेताओं ने हिस्सा नहीं लिया| बैठक के बाद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने आरोप लगाया कि भाजपा सीलिंग के जरिये एफडीआई का रास्ता साफ कर रही है| उन्होंने यह भी कहा है कि बीजेपी इस मसले का समाधान नहीं चाहती है और वे इस पर राजनीति न करें|

Share.
31