website counter widget

रोज़गार के इच्छुक युवा यह ख़बर अवश्य पढ़ें

0

वर्तमान समय में प्रतियोगिता का दौर है| हर कोई एक-दूसरे से आगे निकलने की होड़ में लगा है| हर क्षेत्र में आज कॉम्पीटिशन इतना बढ़ गया है कि एक–एक पद के लिए हजारों प्रत्याशी खड़े हो जाते हैं| ऐसे समय में नौकरी पाना काफी टेढ़ी खीर हो गया है | इस कारण बेरोज़गारी भी बढ़ रही है| आप वोकेशनल कोर्स (Vocational Courses ) कर भी रोज़गार प्राप्त कर सकते हैं|

बीते कुछ सालों में शिक्षा के क्षेत्र में विस्तार हुआ है, जिससे कई प्रकार की नौकरियों के अवसर भी बढ़े हैं। लेकिन युवाओं में स्किल्स की कमी होने के कारण वे नौकरी के बेहतर अवसरों से वंचित हैं।

RDD Jharkhand Recruitment 2019 : ग्रामीण विकास विभाग में भर्तियां

क्या है वोकेशनल या स्किल कोर्स ? (Vocational Courses )

दरअसल, वोकेशनल कोर्स (Vocational Courses ) में विद्यार्थियों को किसी खास फील्ड में ट्रेन किया जाता है और उसके नए ट्रेंड्स के बारे में बताया जाता है, ताकि विद्यार्थी को उस फील्ड की पूरी समझ और विस्तृत प्रशिक्षण भी मिल सके। इस तरह के कोर्स करने से न केवल नौकरी मिलने में आसानी होती है बल्कि युवाओं में आत्मविश्वास भी बढ़ता है।

वोकेशनल यानि स्किल कोर्स (Vocational Courses ) को लेकर भारत में ‘स्किल इंडिया’ जैसे अभियान भी चलाए गए हैं, जहां युवाओं को विभिन्न फील्ड्स में ट्रेनिंग दी जाती है ताकि उन्हें बेरोजगारी से जूझना न पड़े। भारत के कई राज्यों में स्कूली शिक्षा के दौरान ही छात्रों को वोकेशनल यानि स्किल कोर्स के बारे में बताया और समझाया भी जाता है।

Delhi Postal Circle Recruitment 2019 : पोस्ट ऑफिस में 10वीं पास के लिए मौका

ये हैं फायदे (Vocational Courses Benefits)

वोकेशनल एजुकेशन (Vocational course) न केवल रोजगार के अधिक अवसर देती है, बल्कि युवाओं को रोजगार के लिए सक्षम भी बनाती है।

वोकेशनल एजुकेशन छात्रों को अपनी ड्रीम जॉब पाने का मौका देती है।

अपनी स्किल्स के जरिये, फ्रीलांसिंग के अवसरों के भी कई विकल्प मिल जाते हैं।

कोर्स करने के दौरान ही कमाने का मौका मिलता है।

वोकेशनल कोर्स विषय के ज्ञान के साथ-साथ विद्यार्थी में क्रिएटिविटी को भी बढ़ाता हैं।

खुद का व्यवसाय शुरू करने के रास्ते खुलते हैं।

Bombay High Court Recruitment 2019 : हाईकोर्ट में कई पदों पर निकली भर्तियां

कहाँ से करें वोकेशनल या स्किल कोर्स ?  (Vocational course)

भारत में कई ऐसे कॉलेज और यूनिवर्सिटी हैं, जो छात्रों को विभिन्न वोकेशनल कोर्स (Vocational course)ऑफर करते हैं। बेहद कम समय में प्रसिद्धि हासिल करने वाली भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी वोकेशनल कोर्स के लिए एक बेहतर विकल्प के रूप में उभर कर सामने आई है। यह भारत में एकमात्र ऐसी यूनिवर्सिटी है, जो केवल वोकेशनल कोर्स ही ऑफर करती है। छात्रों को विभिन्न प्रकार के वोकेशनल कोर्स ऑफर किए जाते हैं, जिसमें 6 माह की इंटर्नशिप से लेकर 3 साल के डिग्री कोर्स शामिल हैं । सभी स्किल कोर्सेज़ में इंडस्ट्री एक्स्पर्ट्स के द्वारा डिज़ाइन किए गए पाठ्यक्रम शामिल होते हैं ।

जहां एक तरफ इंडस्ट्री में स्किल्ड युवाओं की कमी है वहीं इस युनिवर्सिटी में सभी कोर्सेज़ में डिप्लोमा, डिग्री, पोस्ट-ग्रेजुएट डिग्री व पीएचडी भी ऑफर की जा रही है। BSDU से प्रशिक्षित हर विद्यार्थी अपनी रुचि और कौशल के अनुरूप सही नौकरी का उम्मीदवार बनता है। यहां से प्रशिक्षित सभी विद्यार्थी, नौकरी के क्षेत्र में फ्रेशर्स की तरह नहीं बल्कि प्रोफेशनल उम्मीदवार के रूप में आगे आते हैं। महिंद्रा,हुंडई, होंडा, मदर डेरी, आदित्य बिरला, अडानी, डाबर, मारुति सुज़ुकी जैसी कई नामी कंपनियों में इन प्रोफेशनल केंडिडेट्स को प्लेसमेंट का मौका भी मिलता है।

वैश्विक दृष्टिकोण से यदि देखा जाए तो विश्वभर में स्किल्ड-मैन पॉवर की निरंतर रूप से आवश्यकता बनी रहती है और भारत जैसा युवा देश यदि प्रकृतिक संसाधनों के साथ-साथ अपने मानवीय संसाधनों में भी कौशल रूपी शक्ति का समावेश करता है, तो निःसंदेह भारत एक समृद्ध व विकसित राष्ट्र की ओर कदम बढ़ा सकता है। इसी को ध्यान में रखते हुए भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी में कंप्यूटर, रेफ्रीजरेशन, एयर कंडीशनिंग, कन्स्ट्रकशन, मेटल कन्स्ट्रकशन, हेल्थ केयर स्किल इत्यादि जैसे रोजगारमुखी कोर्सेज़ करवाए जाते हैं।साथ ही स्वयं का बिज़नेस शुरू करने के लिए आनत्र्प्रेनयोरशिप का कोर्स भी ऑफर किया जाता है।

इन कोर्सेज़ की ज़्यादा जानकारी के लिए यहां क्लिक करें  (Vocational course)

आधुनिक दौर में हर जगह टैलेंटेड कैंडीडेट की मांग है, इसलिए अपने स्किल्स को पहचान कर करियर में आगे बढ़ना ही समझदारी है। विद्यार्थी केवल डिग्री के पीछे न भागें बल्कि अपने स्किल को निखारें|

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.