अनुसूचित जाति के युवाओं को दिया जाएगा प्रशिक्षण

0

इंदौर जिले में मुख्यमंत्री कौशल उन्नयन प्रशिक्षण योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति के 250 युवाओं को कौशल उन्नयन का नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा| प्रशिक्षण तीन माह की अवधि का रहेगा| इस अवधि में चयनित युवाओं को एक-एक हज़ार रुपए प्रतिमाह की दर से छात्रवृत्त‍ि भी उपलब्ध कराई जाएगी| इसकी जानकारी ‘जिला अन्त्यावसायी विकास समिति’ के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एमएल जाट ने दी| इस प्रशिक्षण के लिए इच्छुक युवा 25 अगस्त आवेदन कर सकते हैं|

इसके लिए तक कलेक्टर कार्यालय में स्थित ‘जिला अन्त्यावसायी विकास समिति’ कार्यालय में आवेदन कर सकते हैं| उन्होंने बताया कि यह नि:शुल्क प्रशिक्षण एप्रेल परिधान, सूचना एवं प्रौद्योगिकी तथा लेदर वर्क के संबंध में दिया जाएगा| इसके लिए उम्मीदवारों का अनुसूचित जाति से होना ज़रूरी होता है|

योग्यताएं – इस नि:शुल्क प्रशिक्षण के लिए अभ्यर्थी के माता-पिता/अभिभावक अथवा स्वयं की आय गरीबी रेखा के नीचे होना ज़रूरी है| आवेदक राज्य आयोजन मद में प्रशिक्षण के लिए अभ्यर्थी के माता-पिता/अभिभावक अथवा स्वयं के आय भारत सरकार द्वारा पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति की पात्रता हेतु निर्धारित आय सीमा के समान होना चाहिए|

अभ्यर्थी न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता कक्षा 8 वीं उर्त्तीण होना भी ज़रूरी हैं| आवेदन के साथ आवश्यक दस्तावेजों की फोटोकॉपी भी लगाना होगी|

आयु सीमा – आवेदक की उम्र 18 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए|

अंतिम तिथि – 25 अगस्त |

Share.