शिक्षा छोड़ने को मजबूर विद्यार्थियों के लिए स्कॉलरशिप

0

पढ़ाई को लेकर बच्चों के कई सपने होते हैं| कई बच्चे होनहार होने के बावजूद अपने सपनों को पूरा नहीं कर पाते हैं| परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण देश में लगभग 40 फीसदी बच्चे अपनी स्कूली पढ़ाई भी पूरी नहीं कर पाते| ऐसे बच्चों के लिए ‘टैलेंटेड इंडिया’ ने नई पहल की है| अब देश में विभिन्न संस्थानों द्वारा विद्यार्थियों के लिए निकाली गई स्कॉलरशिप की जानकारी आप हर शनिवार ‘टैलेंटेड इंडिया’ के करियर स्तम्भ में देख सकते हैं|

किसी भी सरकारी या प्राइवेट स्कूल के छठवीं कक्षा से लेकर 12वीं कक्षा तक के विद्यार्थी व एआईसीटीई/यूजीसी/ राज्य या केंद्र सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त संस्थान से ग्रेजुएशन व पोस्ट ग्रेजुएशन में फुलटाइम/पार्टटाइम डिग्री या डिप्लोमा कर रहे विद्यार्थी इस स्कॉलरशिप का लाभ ले सकते हैं| ऐसे विद्यार्थी जो आर्थिक व अन्य संकट जैसे परिवार में किसी की मृत्यु, लम्बी बीमारी व नौकरी छूट जाने के चलते शिक्षा प्राप्त करने में कठिनाइयों का सामना कर रहे हों| ऐसे विद्यार्थी शिक्षा छोड़ने के लिए मजबूर हों तो वे ‘एचडीएफसी क्राइसिस स्कॉलरशिप 2018’  के लिए आवेदन कर सकते हैं|

पात्रता

विद्यार्थी जिनका परिवार कोई दुर्भाग्यपूर्ण घटना का सामना कर रहा हो या पिछले दो वर्षों में कोई अन्य संकट आया हो, वे इस स्कॉलरशिप के लिए आवेदन कर सकते हैं|

लाभ या ईनाम

चयनित विद्यार्थी को स्कूली शिक्षा हेतु अधिकतम 10,000 व कॉलेज की शिक्षा हेतु अधिकतम 25,000 रुपए तक की राशि प्राप्त होगी|

अन्य जानकारी

आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज इस प्रकार हैं –

पिछली परीक्षा की प्रमाणित अंकसूची

एड्रेस प्रूफ की दो प्रतियां

डॉक्टर द्वारा लिखा गया दस्तावेज  (यदि विद्यार्थी अस्वस्थ हैं उस परिस्थिति में)

सैलरी स्लिप (यदि हो)

पारिवारिक आय प्रमाण-पत्र

आवेदन करने के लिए अंतिम तिथि

पात्र उम्मीदवार 15 अगस्त, 2018 तक आवेदन कर सकते हैं|

ऐसे करें आवेदन 

इच्छुक विद्यार्थी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए (आवेदन हेतु लिंक) ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर प्रक्रिया फॉलो करें|

http://www.buddy4study.com/scholarship/hdfc-educational-crisis-scholarship-2018

ऑनलाइन आवेदन हेतु महत्वपूर्ण लिंक- http://www.b4s.in/TI/HEC5

साभार –www.buddy4study.com 

Share.