दसवीं पास अल्पसंख्यकों को मिलेगी स्कॉलरशिप

0

अल्पसंख्यक (मुस्लिम, क्रिश्चिन, सिख, जैन, बौद्ध व पारसी) समुदाय के ग्यारहवीं कक्षा से लेकर पीएचडी की शिक्षा प्राप्त कर रहे मेधावी विद्यार्थी, जो कमजोर आर्थिक स्थिति के कारण शिक्षा प्राप्त करने में कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं तो ऐसे लोगों के लिए सरकार खुशखबरी लेकर आई है| इच्छुक उम्मीदवारों के लिए  अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय द्वारा “पोस्ट-मेट्रिक स्कॉलरशिप स्कीम फॉर माइनॉरिटीज 2018-19” प्रदान कराई जा रही है| इसके लिए आवेदन करने के लिए विद्यार्थियों को प्रत्येक वर्ष की परीक्षा में न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक लाने होंगे| इस स्कॉलरशिप की 30 प्रतिशत सीटें महिला विद्यार्थियों के लिए आरक्षित हैं।| स्कॉलरशिप का लाभ एक परिवार के दो बच्चे भी प्राप्त कर सकते हैं|

योग्यता 

इस स्कॉलरशिप के लिए विद्यार्थी ने पूर्व परीक्षा में 50 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हों| उनके परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रुपए से अधिक न हो|

लाभ 

चुने गए अभ्यर्थियों को कोर्स के आधार पर हॉस्टलर व डे स्कॉलर विद्यार्थियों को 230 रुपए से लेकर 10,000 रुपए तक की राशि फीस व भत्ता दिया जाएगा|

इस स्कॉलरशिप के लिए विद्यार्थियों को नीचे दिए गए दस्तावेजों की आवश्यकता होगी|

पासपोर्ट साइज़ फोटो, मूल निवासी प्रमाण-पत्र, जाति प्रमाण-पत्र / स्वघोषित अल्पसंख्यक समुदाय प्रमाण-पत्र

आय प्रमाण-पत्र, पिछली कक्षा की स्वप्रमाणित अंकसूची, शुक्ल रसीद, आधार कार्ड, स्वयं का या माता-पिता के साथ ज्वाइंट बैंक अकाउंट का प्रमाण|

अंतिम तिथि

31 अक्टूबर, 2018 तक आवेदन किया जा सकता है|

इच्छुक एवं पात्र विद्यार्थी http://www.b4s.in/TI/PMS46   पर लॉग इन कर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं|

-साभार: –www.buddy4study.com

न्यूरोसाइंस में मास्टर्स के लिए छात्राओं को स्कॉलरशिप

11वीं से लेकर पोस्ट ग्रेजुएशन कर रहे दिव्यांग विद्यार्थियों के लिए स्कॉलरशिप

Share.